सबसे लंबे समय तक कौन रहा भारत का प्रधानमंत्री?

शेयर करे

नई दिल्ली : नरेंद्र मोदी अब से बस थोड़े ही देर में शपथ लेने वाले हैं। मोदी तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं। बता दें कि 4 जून को आए चुनावी नतीजों के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी ने 240 सीटों पर जीत दर्ज की है। साथ ही सहयोगी दलों के साथ एनडीए गठबंधन 293 सीटों पर जीतने में सफल रही है। बता दें कि नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री की शपथ लेकर रिकॉर्ड बनाने जा रहे हैं। लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने वालों की लिस्ट में मात्र कुछ ही नाम शामिल है। ऐसे में सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहने वालों की लिस्ट में पीएम मोदी का नाम भी शामिल हो चुका है। अब देखना यह है कि क्या नरेंद्र मोदी अपना कार्यकाल पूरा करते ही इंदिरा गांधी के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे?

जवाहर लाल नेहरू

आजादी के बाद देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू बनें। जवाहर लाल नेहरू तीन बार के प्रधानमंत्री रह चुके हैं। साल 1947 से 1964 तक करीब 17 सालों तक जवाहर लाल नेहरू प्रधानमंत्री बने रहे। जवाहर लाल नेहरू ने कुल 16 साल, 9 महीने और 13 दिन तक बतौर प्रधानमंत्री की कुर्सी संभाली। प्रधानमंत्री के पद पर रहे हुए ही जवाहर लाल नेहरू को दिल का दौरा पड़ा और उनका निधन 27 मई 1964 को हो गया।

इंदिरा गांधी

इंदिरा गांधी की अगर बात करें तो साल 1966 से लेकर 1977 तक इंदिरा गांधी ने तीन बार देश की बागडोर संभाली। जवाहर लाल नेहरू की मृत्यु के बाद लाल बहादुर शास्त्री को प्रधानमंत्री बनाया गया था। 1966 में लाल बहादुर शास्त्री की मौत के बाद इंदिरा गांधी को देश का प्रधानमंत्री बनाया गया। इस समय इंदिरा गांधी देश में पहली बार प्रधानमंत्री बनी थीं। इसके बाद साल 1967 में हुए चुनाव में उन्होंने जीत दर्ज की और दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। इसके बाद साल 1971 में हुए चुनाव में उन्होंने जीत दर्ज की और लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री चुनी गईं। साल 1975 में आपातकाल लगाया गया। इस कारण इंदिरा गांधी का कार्यकाल जो 1976 में खत्म होना था वह आपातकाल के खत्म होने तक यानी 1977 तक जारी रहा। उनका चौथा और अंतिम कार्यकाल 1980 से 1984 तक था। इसके बाद 31 अक्टूबर 1984 को इंदिरा गांधी की हत्या उनके ही गार्ड द्वारा उनके ही आवास के बाहर कर दी गई। अगर कुल समय की बात करें तो इंदिरा गांधी 15 साल, 11 महीने और 22 दिनों तक प्रधानमंत्री बनी रहीं।

डॉ. मनमोहन सिंह

भारत के पहले सिख प्रधानमंत्री थे डॉ. मनमोहन सिंह। मनमोहन सिंह यूपीए सरकार में साल 2004 से 2014 तक प्रधानमंत्री बने रहे। उन्होंने दोनों बार यूपीए सरकार का नेतृत्व किया। प्रधानमंत्री कार्यालय में मौजूद जानकारी के मुताबिक मनमोहन सिंह 10 साल, 5 दिनों तक प्रधानमंत्री के पद पर बने रहे।

नरेंद्र मोदी

9 जून को नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी ने साल 2014 में प्रचंड जीत हासिल की थी। इसके बाद साल 2014 में नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने। इसके बाद साल 2019 के लोकसभा चुनावों में भाजपा ने फिर से प्रचंड जीत दर्ज की। इस चुनाव के बाद भी नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने। वहीं अब नरेंद्र मोदी तीसरी 9 जून 2024 को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं। इस कार्यकाल को पूरा करने के साथ ही नरेंद्र मोदी तीसरे सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहने वाले नेता हो जाएंगे।

 

Visited 106 times, 1 visit(s) today
1
0

Leave a Reply

मुख्य समाचार

कोलकाता : मेट्रो रेलवे द्वारा चलाये जा रहे स्पेशल नाइट मेट्रो के समय को 20 मिनट कम कर दिया गया
कोलकाता: पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी के पास 17 जून को हुए ट्रेन हादसे ने देशवासियों को झकझोर कर रख
कोलकाता : अगले दो से तीन घंटों में कोलकाता में हल्की बारिश होने वाली है। शहर के अधिक हिस्सों में
पटना: नीट पेपर लीक मामला पूरे देशभर में छाया हुआ है। बिहार के डिप्टी सीएम विजय सिन्हा ने बड़ा दावा
कोलकाता : मानसून दस्तक देने वाला है। इससे पहले इसे लेकर तैयारियों को पूरा करने का निर्देश शहरी विकास तथा
कोलकाता: मौसम विभाग के पूर्वानुमान पर लोगों का भरोसा खत्म हो गया है। पिछले कुछ दिनों से बारिश का पूर्वानुमान
पटना: नीतीश सरकार को पटना हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। बिहार में आरक्षण का दायरा बढ़ाए जाने के नीतीश
नोएडा: देश के उत्तरी हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है। नोएडा में अलग-अलग जगहों पर बीते मंगलवार को 14
कोलकाता: बंगाल में लोकसभा चुनाव के नतीजे वाले दिन डेबरा में पुलिस कस्टडी में BJP कार्यकर्ता की मौत हुई थी।
कोलकाता: दक्षिण बंगाल के अधिकांश हिस्सों में आज सुबह से ही आसमान में बादल मंडरा रहा है। धूप नहीं होने
नई दिल्ली: NEET परीक्षा को लेकर दायर कई याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान काउंसलिंग रोकने और तत्काल
कोलकाता : मेट्रो की ओर से रात 11 बजे चलायी जा रही नाइट स्पेशल मेट्रो से कम आय हो रही है।
ऊपर