‘निमंत्रण भेज देते, झूठे मुंह से ही भेज देते’, छलका उमा भारती का दर्द

शेयर करे

नई दिल्ली : मध्य प्रदेश में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। इस चुनाव से पहले सभी दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। इस बीच राज्य के पूर्व सीएम और बीजेपी के दिग्गज नेता उमा भारती ने राज्य में शुरू की गईं जन आशीर्वाद यात्राओं में खुद को न बुलाए जाने पर नाराजगी जताई है। उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि ना तो उन्होंने खुद को किनारे लगाया और ना ही कोई उन्हें किनारे लगा सकता है। उमा भारती ने कहा, “2019 में मैंने कहा था कि ये चुनाव नहीं लडूंगी। मैं 27 साल की उम्र में चुनाव लड़ गई थी। तब से मैं 6 बार सासंद बनी, 2 बार विधायक बनी, केंद्र में मंत्री रही और मुख्यमंत्री रही। जब मैंने कहा कि मुझे 5 साल का ब्रेक दे दो मैं गंगा का काम पूरा करूंगी, गंगा की यात्रा करूंगी लेकिन 2024 का चुनाव जरूर लडूंगी। मैंने कभी खुद को किनारे पर लगाया नहीं और मुझे कोई किनारे पर लगा भी नहीं सकता।”
प्रचार करने से हुआ था सीटों में इजाफा
उमा भारती ने आगे कहा कि विधानसभा उपचुनाव के दौरान उन्हें कोरोना हो गया था और वो AIIMS में भर्ती थीं। प्रदेश के नेताओं की लाख मिन्नतों करने के बाद उन्होंने उपचुनाव में सरकार के लिए वोट मांगा। उन्होंने कहा हालांकि बीजेपी चुनाव जीतने ही वाली थी लेकिन उनके चुनाव प्रचार करने से कुछ सीटों में इजाफा हुआ होगा।
क्या जन आशीर्वाद यात्रा में नहीं बुलाए जाने से नाराज हैं उमा भारती?
जन आशीर्वाद यात्रा में निमंत्रण नहीं दिए जाने के सवाल पर उमा भारती ने कहा, “वो मुझे सिर्फ चुनाव प्रचार के लिए बुलाते हैं। 2017 में यूपी चुनाव में जो चेहरे दिखाए गए थे, उनमें एक चेहरा मेरा भी दिखाया गया था। मुझे सिर्फ पोस्टर गर्ल नहीं बनना है कि चेहरा दिखा दिए और वोट ले लिए। मैं अभी बहुत छोटी हूं मुझे गरीबों और असहाय के लिए 15-20 साल और काम करना हैं। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 10 साल छोटी हूं। प्रदेश में भी वीडी शर्मा से सिर्फ बड़ी हूं बाकि सभी नेताओं से छोटी हूं। उमा भारती ने आगे कहा कि अगर यात्रा में उन्हें बुला भी लेते तो शायद ऐसा भी होता कि वो ना जातीं लेकिन बुला तो लेते कम से कम। उन्होंने कहा, “मुझे नहीं जाना था जन आशीर्वाद यात्रा में, मुझे नहीं बनना है भीड़ का हिस्सा लेकिन कम से कम झूठे मुंह से ही आमंत्रण भेज देते। जब इतने सारे नेताओं के फोटो लगाए तो एक मेरा भी चिपका देते बगल में।”
‘सिर्फ शिवराज की बात मानूंगी’
इस दौरान उमा भारती ने कहा कि उन्हें अपने वजूद की चिंता नहीं रहती है, ना किसी नेता ने उन्हें बनाया है ना ही कोई नेता उन्हें मिटा सकता है। उन्होंने कहा, “जनता की दुआ और परमात्मा की दया से मैं आगे बढ़ रही हूं।” उन्होंने कहा, “मैं शिवराज सिंह चौहान के साथ हूं। चुनाव प्रचार में… जो शिवराज जी कहेंगे, मैं तो उनकी बात मानूंगी.. अगर शिवराज जी कहेंगे तो मैं चुनाव प्रचार में उनका साथ दूंगी। इसके अलावा मैं पार्टी की किसी गतिविधि में हिस्सा नहीं लूंगी।”

Visited 128 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता : देवों के देव शिव शंभू, शिव शंकर साल का सबसे प्रिय माह श्रावण मास माना जाता है। इस
तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा सितंबर और चौथे सेमेस्टर की परीक्षा मार्च में कोलकाता : 12 साल बाद उच्च माध्यमिक के
हावड़ा : तीन युवकों पर शनिवार को 12 साल की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म कर उसे दफनाने का आरोप लगा
कल मुहर्रम पर महानगर में सुरक्षा चाक-चौबंद, ट्रैफिक होगी प्रभावित करीब 4 हजार पुलिस कर्मी रहेंगे तैनात कल शहर में
कोलकाता : 6 दोस्त मंदारमणि की यात्रा पर गए थे। सभी लोग समुद्र में स्नान करने गये। तभी 2 लोगों
रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया हुई शुरू कोलकाता : माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कक्षा 9 की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। इसे
एक नजर प्याज : 50 रु. प्रति किलो टमाटर : 100 रु. प्रति किलो कोलकाता : पश्चिम बंगाल टास्क फोर्स
संजय मुखर्जी को बनाया गया डीजी दमकल कोलकाता : लोकसभा चुनाव और विधानसभा के उपचुनाव खत्म होते ही एक बार
कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश के बाद ईबी व टास्क फोर्स द्वारा मिलकर महानगर के विभिन्न बाजारों में
कोलकाता : कोलकाता में सोमवार को भगवान जगन्नाथ के 53वां उल्टा रथयात्रा का आयोजन किया गया। इस्कॉन कोलकाता के सौजन्य
कोलकाता : महानगर व आसपास क्षेत्रों के 19 अहम ब्रिज और फ्लाईओवर की मरम्मत की जायेगी। केएमडीए ने इसकी तालिका
कोलकाता : राज्य के मोटर ट्रेनिंग स्कूलों पर परिवहन विभाग द्वारा नकेल कसी जाने के लिये कई अहम कदम उठाये
ऊपर