जानिए उस ‘तेजस’ लड़ाकू विमान की 5 खासियत जिसमें पीएम मोदी ने भरी उड़ान

बेंगलुरु: हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) की साइट पर शनिवार(25 नवंबर) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लड़ाकू विमान तेजस में उड़ान भरी। इसकी तस्वीरें ने पीएम मोदी ने सोशल मीडिया पर शेयर कीं। HAL द्वारा बनाए गए इस बेहतरीन फाइटर जेट के मिग 21 लड़ाकू जेट के पुराने स्क्वाड्रन के जगह विकसित किया गया है। जानकारी के अनुसार भारतीय वायुसेना और रक्षा मंत्रालय ने इसके सभी वेरिएंट सहित कुल 324 तेजस विमान खरीदने को लेकर HAL के साथ कॉन्ट्रैक्ट किया था।

 

  • तेजस एक भारतीय निर्मित एकल-इंजन लड़ाकू जेट है जिसको लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) कार्यक्रम से विकसित किया गया। इसकी शुरुआत 1980 के दशक में हुई थी। यह एक डेल्टा विंग और हल्का मल्टीरोल फाइटर है।
  • तेजस एक सुपरसोनिक लड़ाकू विमान भारतीय वायु सेना का सबसे छोटा और हल्का विमान है। कई देशों में भी इस विमान की मांग है। अमेरिकाने हाल ही में संयुक्त रूप से मार्क II तेजस विमान न‍िर्माण को लेकर भारत की HAL कंपनी के साथ एक समझौता किया है।
  • मिग 21 स्क्वाड्रन को बदलने के लिए स्वदेशी रूप से विकसित तेजस को चरणबद्ध तरीके से भारतीय वायु सेना में शामिल किया जा रहा है जिसे बड़ी संख्या में पायलटों की मौत के कारण ‘उड़ता ताबूत’ करार दिया गया है।
  • तेजस विमान हवा से हवा में ईंधन भरने (एएआर) में सक्षम है और सक्रिय इलेक्ट्रॉनिक-स्कैन्ड एरे (एईएसए) रडार और एक इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर (ईडब्ल्यू) सूट से लैस है, जो इसे अपनी कैटेगरी के अधिकांश लड़ाकू विमानों से बेहतर बनाता है।
  • यह पूरी तरह से मिसाइल से लैस लड़ाकू विमान है जिसमें दृश्य सीमा से परे मिसाइल क्षमताएं और म‍िन‍िमम रीलोडिंग समय के साथ हवा से जमीन पर मार करने वाले हथियार हैं।
Visited 25 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Apple पर EU ने लगाया 2 अरब डॉलर का जुर्माना, जानें कारण

लंदनः यूरोपीय संघ ने एप्पल के खिलाफ लगभग दो अरब अमेरिकी डॉलर का प्रतिस्पर्धारोधी जुर्माना लगाया। अमेरिकी कंपनी पर दूसरे प्रतिद्वंद्वियों के मुकाबले अपनी संगीत स्ट्रीमिंग आगे पढ़ें »

WB Weather Update: बंगाल में अगले 2 दिन में फिर गिरेगा पारा, मौसम विभाग ने दी जानकारी

कोलकाता: बंगाल में बीते दो दिनों से मौसम शुष्क बना हुआ है। अलीपुर मौसम के अनुसार अगले कुछ दिनों में तापमान में कमी आएगी। इस आगे पढ़ें »

ऊपर
error: Content is protected !!