आदित्य-L1 की सफल लॉन्चिंग के लिए ISRO अध्यक्ष ने की मंदिर में पूजा, देखें वायरल वीडियो

बेंगलुरु: आदित्य L1 लॉन्चिंग होने के लिए तैयार है। इससे पहले शुक्रवार (1 सितंबर) को इसरो अध्यक्ष एस सोमनाथ तिरुपति के सुलुरुपेटा में श्री चेंगलम्मा परमेश्वरी मंदिर गए और मिशन की सफलता के लिए पूजा-अर्चना की। जानकारी के मुताबिक सुबह साढ़े सात बजे मंदिर पहुंचे। इसके बाद उसने वहां पर प्रार्थना की। मंदिर में मौजूद इसरो प्रमुख का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सूर्य के आस-पास मौजूद चीजों को समझने के लिए भारत का सूर्ययान मिशन बेहद महत्वपूर्ण है। 2 सितंबर को सुबह 11 बजकर 50 मिनट पर इसरो इसे स्वदेशी रॉकेट से लॉन्च करेगा। जानकारी के मुताबिक इस मिशन को नियत स्थान पर पहुंचने में 125 दिन लगेंगे।

 

 

मंदिर के अधिकारी ने दी जानकारी
बता दें कि चेंगलम्मा परमेश्वरी मंदिर के कार्यकारी अधिकारी श्रीनिवास रेड्डी ने कहा कि करीब 15 साल से, रॉकेट के प्रक्षेपण से पहले इसरो के अधिकारियों का इस मंदिर में आते हैं। यहां पर आना एक परंपरा बन गई है। चंद्रयान-3 मिशन के लॉन्च से पहले भी एस सोमनाथ मंदिर आए थे।

इसरो ने लॉन्चिंग से पहले किया ट्वीट

आज यानी शुक्रवार को इसरो ने ट्वीट कर कहा है कि “सूर्य गैस का एक विशाल गोला है और आदित्य-एल1 सूर्य के बाहरी वातावरण का अध्ययन करेगा। आदित्य-एल1 न तो सूर्य पर उतरेगा और न ही सूर्य के करीब आएगा।” इसरो ने दो ग्राफ के जरिए इस मिशन को लेकर और अच्छी तरह से जानकारी दी। इसके तहत आदित्य-एल1 मिशन में अंतरिक्ष यान को लैग्रेंज बिंदु-1 (एल-1) के चारों ओर एक होलो ऑर्बिट में रखा जाएगा। पृथ्वी से इसकी दूरी लगभग 1.5 लाख किमी दूर है। एल-1 बिंदु पर ग्रहण का असर नहीं पड़ता और इस जगह से सूरज को लगातार देखा जा सकता है।

Visited 44 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

सरबजीत सिंह के हत्यारे की हत्या

नई दिल्ली : लाहौर के डॉन अमीर सरफराज की हत्या कर दी गई है। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अमीर को लाहौर आगे पढ़ें »

आपके नाम पर कितने सिम कार्ड है चालू? इस तरह आसानी से जानें

नई दिल्ली: कुछ महीने पहले भारत सरकार ने TAFCOP की वेबसाइट लॉन्च की है जो Telecom Analytics for Fraud Management and Consumer Protection है। इस आगे पढ़ें »

ऊपर