डेढ़ घंटे में उड़ाए 48 हजार रुपए, पुणे हिट एंड रन केस में खुलासा

शेयर करे

पुणे: महाराष्ट्र के पुणे हिट एंड रन केस में हर दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं। आरोपी नाबालिग के पिता को पुलिस सोमवार को अरेस्ट कर चुकी है। अब सामने आया है कि इस एक्सीडेंट से पहले आरोपी अपने दोस्तों के साथ शहर को दो फेमस पब में गया था। उसने पहले पब में केवल 90 मिनट में 48 हजार रुपये खर्च किए थे।

पुलिस ने दोनों पब को किया सील

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुणे के पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार ने बताया कि आरोपी शनिवार रात 10.40 बजे Cosie पब में गया था। Cosie द्वारा सेवा देना बंद करने के बाद 12.10 बजे आरोपी अपने दोस्तों के साथ बाहर आया था। इस दौरान केवल 90 मिनट में उसने 48 हजार रुपये के बिलों का भुगतान किया था। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, Cosie के बाद वो दूसरे पब Blak Mariott के लिए रवाना हुए। उन्होंने कहा, “हमें पब का 48 हजार रुपये का बिल मिला है, जिसका भुगतान नाबालिग ड्राइवर ने किया था। इस बिल में आरोपी और उसके दोस्तों को परोसी गई शराब की कीमतें शामिल हैं।” पुलिस ने पुणे के इन दोनों पबों को सील कर दिया है।

ACP मनोज पाटिल ने बताया, “नाबालिग कार चलाने से पहले अपने दोस्तों के साथ पब गया था और शराब पी थी। हमारे पास आरोपी के दोस्तों के साथ शराब पीने के CCTV फुटेज हैं। ब्लड के नमूने की रिपोर्ट आने का इंतजार है। अबतक के सबूतों के आधार पर 17 साल के आरोपी के खिलाफ मोटर वाहन अधिनियम की धारा 185 (शराब पीकर गाड़ी चलाना) जोड़ी गई है।”

ये भी पढ़ें: ‘बंगाल में BJP की 30 सीटें आते ही टूट जाएगी TMC’, कांथि में बोले अमित शाह

कार का नहीं हुआ था रजिस्ट्रेशन

इससे पहले सामने आया था कि जिस पोर्श गाड़ी से एक्सीडेंट हुआ था, उसका रजिस्ट्रेशन भी नहीं कराया गया था। महाराष्ट्र ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने कहा कि 1,758 रुपये की फीस का भुगतान न करने की वजह से कार का रजिस्ट्रेशन मार्च से पेंडिंग था। अधिकारियों का कहना है कि उनके रिकॉर्ड के मुताबिक कार के पास मार्च से सितंबर 2024 तक छह महीने की वैलिडिटी के साथ कर्नाटक द्वारा जारी एक वेलिड टेम्प्रेरी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट है। उन्होंने कहा कि बेंगलुरु में पोर्श डीलर की कोई गलती नहीं थी क्योंकि उसने अस्थायी पंजीकरण करने के बाद कार सौंप दी थी। इसलिए, यह मालिक की जिम्मेदारी थी कि वे इसे सड़कों पर चलाने से पहले आरटीओ में रजिस्टर कराए। वहीं, टेम्प्रेरी रजिस्ट्रेशन यानी अस्थायी पंजीकरण के साथ वाहनों का इस्तेमाल सिर्फ आरटीओ तक आने-जाने के लिए किया जा सकता है।

नाबालिग ड्राइवर पर क्या एक्शन लिया गया?

अधिकारियों का कहना है कि जो नाबालिग (17 साल) का लड़का कार चला रहा था उस पर 25 साल की उम्र तक ड्राइविंग लाइसेंस हासिल करने पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। वहीं लक्जरी कार को 12 महीने तक किसी भी आरटीओ ऑफिस में रजिस्ट्रेशन करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

Visited 42 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता : राज्य सरकार के परिवहन विभाग की ओर से ‘वन स्टेट वन कार्ड’ चालू किया जा रहा है। यह
नई दिल्ली : दुनियाभर में तमाम लोगों के विंडोज सिस्टम पर ब्लू स्क्रीन की दिक्कत आ रही है। Microsoft के
कोलकाता : देवों के देव शिव शंभू, शिव शंकर साल का सबसे प्रिय माह श्रावण मास माना जाता है। इस
तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा सितंबर और चौथे सेमेस्टर की परीक्षा मार्च में कोलकाता : 12 साल बाद उच्च माध्यमिक के
हावड़ा : तीन युवकों पर शनिवार को 12 साल की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म कर उसे दफनाने का आरोप लगा
कल मुहर्रम पर महानगर में सुरक्षा चाक-चौबंद, ट्रैफिक होगी प्रभावित करीब 4 हजार पुलिस कर्मी रहेंगे तैनात कल शहर में
कोलकाता : 6 दोस्त मंदारमणि की यात्रा पर गए थे। सभी लोग समुद्र में स्नान करने गये। तभी 2 लोगों
रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया हुई शुरू कोलकाता : माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कक्षा 9 की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। इसे
एक नजर प्याज : 50 रु. प्रति किलो टमाटर : 100 रु. प्रति किलो कोलकाता : पश्चिम बंगाल टास्क फोर्स
संजय मुखर्जी को बनाया गया डीजी दमकल कोलकाता : लोकसभा चुनाव और विधानसभा के उपचुनाव खत्म होते ही एक बार
कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश के बाद ईबी व टास्क फोर्स द्वारा मिलकर महानगर के विभिन्न बाजारों में
कोलकाता : कोलकाता में सोमवार को भगवान जगन्नाथ के 53वां उल्टा रथयात्रा का आयोजन किया गया। इस्कॉन कोलकाता के सौजन्य
ऊपर