बिग बॉस 17 के विजेता Munawar Faruqui का कंट्रोवर्सी से है पुराना नाता

मुंबई : बिग बॉस 17 का खिताब इस बार मुनव्वर फारूकी ने जीत लिया है। ग्रैंड फिनाले में मुनव्वर ने अभिषेक कुमार को हरा दिया है। इसी के साथ उन्होंने 50 लाख रुपये और एक नई कार जीती। बिग बॉस 17 में स्टैंड-अप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी का सफर काफी कॉन्ट्रोवर्सी से भरा रहा है। शो में मुनव्वर को अपने रिश्तों को लेकर लोगों से काफी कुछ सुनना पड़ा। हालांकि मुनव्वर ने किसी भी दावे को झूठा नहीं बताया और नेशनल टेलिविजन पर माफी के साथ सब कुछ स्वीकार कर लिया। अपने सफर में कई उतार-चढ़ाव का सामना करने के बाद, मुनव्वर ने आखिरकार बिग बॉस सीजन 17 की ट्रॉफी अपने नाम कर ली।

स्टैंड-अप कॉमेडियन से सिंगर बने मुनव्वर फारूकी ने हाल ही में एक इंटरव्यू में खास बातचीत की। इस दौरान उन्होंने अपनी इमेज को नुकसान पहुंचाने, एक ‘फिक्स्ड विनर’ होने के आरोपों पर खुलकर रिएक्ट किया। उन्होंने अपने बेटे मिखाइल के बारे में भी खुलकर बात की और बताया कि वह कैसे चाहेंगे कि उनका बेटा उनकी गलतियों से सीखे और उन्हें न दोहराए।

‘मैं अपने सपने के बारे में नहीं भूला’

मुनव्वर फारूकी ने अपनी जीत पर बात करते हुए कहा- ‘पहले दिन से जो यकीन था वही आखिरी दिन था… मैं शो जीतने के लिए बिग बॉस 17 के घर के अंदर गया और एक सेकंड के लिए भी मैं अपने सपने के बारे में नहीं भूला। ध्यान भटक रहा था और मुझे लगा कि मुझे खेल से ध्यान भटकाना होगा और समस्याओं को ठीक करना होगा’।

‘फैंस और भगवान की वजह से हुई जीत’

मुनव्वर ने कहा कि ‘पंक्चर है तो पहले आपको गाड़ी ठीक करनी होगी वरना आप मंजिल तक नहीं पहुंचोगे, मैं सब कुछ ठीक करने के लिए तैयार था। यह जीत और प्यार जो मुझे मिला है वह फैंस और भगवान की वजह से है। मुझे काफी टेंशन है, क्योंकि मुझे ऐसे सवालों का सामना करना पड़ रहा है जिनके बारे में मुझे जानकारी नहीं है लेकिन मुझे उनका जवाब देना है। लोग मेरे खिलाफ जो टैग इस्तेमाल कर रहे हैं, वे मुझे परेशान कर रहे हैं’।

‘फिक्स्ड विनर’ पर मुनव्वर फारूकी ने किया रिएक्ट

मुनव्वर ने ‘फिक्स्ड विनर’ कहे जाने पर रिएक्ट करते हुए कहा- ‘यार ‘फिक्स्ड विनर’ को इतना सब करना पड़े तो ये फिक्स्ड विनर नहीं हो सकता। अगर मैं फिक्स्ड विजेता होता तो मुझे सब कुछ एक थाली में मिल जाता। पूरा सीजन गवाह है कि मेरे पास थाली में कुछ नहीं था, मैंने कड़ी मेहनत की है और बहुत कुछ किया है’।

पहले भी घिरे हैं विवादों में
इससे पहले भी मुनव्वर फारुखी विवादों में रह चुके हैं। कॉमेडियन के दिल्ली, नागपुर, बेंगलुरु के साथ ही कई शहरों में शो कैंसिल हुआ है। दरअसल, मुनव्वर ने हैदराबाद में एक शो किया था जिसमें उन्होंने हिंदू देवी- देवताओं का अपमान किया है। इसके बाद से पूरे देश में मुनव्वर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहे थे। मुनव्वर को हिंदू संगठनों और नेताओं से भी धमकी मिली थी। आइए जानते हैं कौन है मुनव्वर फारुकी जिनका विवादों से है दिलचस्प नाता।

साल 2021 मुनव्वर फारुखी ने इंदौर में शो किया था। शो के दौरान मुनव्वर ने एक जोक किया था जिसके लिए उन्हें जेल तक जाना पड़ा था। कॉमेडियन ने हिंदू देवी- देवताओं और गृह मंत्री अमित शाह पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इसके बाद मुनव्वर फारुखी को जेल जाना पड़ा था। इतना ही नहीं उनके खिलाफ अलग-अलग राज्यों में केस तक दर्ज हुआ था। इस केस की वजह से एक महीने तक जेल में थे मुनव्वर फारुखी। जेल से आने के बाद भी मुनव्वर के लिए राह आसान नहीं थी। मुनव्वर फारुखी के 12 शो लगातार कैंसिल हुए थे। कॉमेडियन ने अपने शो कैंसिल होने पर ट्विटर पर भड़ास निकाल थी। कॉमेडियन पर अक्सर सरकार के खिलाफ बयानबाजी करने का आरोप लगा है।

शादीशुदा है मुनव्वर फारुखी

मुनव्वर ने लॉकअप शो में पहली बार बताया था कि वो शादीशुदा हैं और उनका एक बेटा भी है। मुनव्वर फारुखी बिग बॉस 17 से पहले कंगना रनौत के शो लॉकअप में नजर आए थे। एक्टर ने शो में खुलासा किया था कि वो किसी को डेट कर रहे हैं।

कौन हैं मुनव्वर फारुखी

मुनव्वर फारुखी का जन्म गुजरात के जूनागढ़ में एक मुस्लिम परिवार में हुआ था। गुजरात दंगों के बाद उनका परिवार मुंबई के डोंगरी में शिफ्ट हो गया था। कॉमेडियन के परिवार की हालत ठीक नहीं थी, इसलिए 17 साल की उम्र में उन्होंने पढ़ाई के साथ काम करना शुरू कर दिया था। उन्होंने कुछ दिनों तक ग्राफिक डिजाइनर के तौर पर भी काम किया। 2017 में मुनव्वर फारुखी ने कॉमेडी में अपना हाथ आजमाया। उनकी सोशल मीडिया पर जबरदस्त फैन फॉलोइंग है।

Visited 22 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

पश्चिम बंगाल में केंद्रीय सुरक्षाबल की 100 कंपनियां पहुंचीं, शिक्षा मंत्री ने जताई आपत्ति

कोलकाता : चुनाव आयोग लोकसभा चुनाव की कभी भी घोषणा कर सकता है। चुनाव से पहले राज्य में केंद्रीय बल आ चुका है। शुक्रवार काे पहले आगे पढ़ें »

Jayant Sinha: जयंत सिन्हा ने चुनाव नहीं लड़ने का किया ऐलान, हाईकमान को फैसले के पीछे …

हजारीबाग : हजारीबाग से भारतीय जनता पार्टी के सांसद जयंत सिन्हा ने भी पार्टी से गुजारिश की है कि वह उन्हें चुनावी कर्तव्यों से मुक्त आगे पढ़ें »

ऊपर