JU Ragging : ‘अत्याचार की बात आयी है सामने, किसने और क्यों किया यह जानना जरूरी’

शेयर करे

जेयू मामले में गिरफ्तार पूर्व छात्र 22 अगस्त तक पुलिस हिरासत में
अभियुक्त ने कहा- मैं बेगुनाह हूं
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : जादवपुर में छात्र स्वप्नदीप कुंडू की अस्वाभाविक मौत के मामले में गिरफ्तार पूर्व छात्र सौरव चौधरी की जमानत याचिका अदालत ने खारिज कर दी। अदालत ने उसे 22 अगस्त तक पुलिस हिरासत में भेज दिया। शनिवार को कोर्ट लॉकअप से निकलते वक्त सौरव ने दावा किया कि वह बेगुनाह है। पुलिस ने मामले में सौरव चौधरी के मोबाइल फोन को जब्त कर लिया है। शनिवार को अदालत में सुनवाई के दौरान सरकारी वकील सौरीन घोषाल ने कहा कि एक अत्याचार की बात सामने आयी है। जिसे गिरफ्तार किया गया है उसका नाम सामने आया है। उसके साथ और भी कई लोगों के जुड़े होने की संभावना है। ऐसे में सभी का पता लगाने के लिए जांच जरूरी है। सरकारी वकील ने बताया कि मामले में तीन लोगों का गुप्त बयान दर्ज किया गया है। गत बुधवार की रात जादवपुर विश्वविद्यालय के छात्र स्वप्नदीप कुंडू की अस्वाभाविक परिस्थितियों में मौत हो गयी थी। हॉस्टल के तीसरे तल्ले से गिरकर स्वप्नदीप की मौत हो गयी थी। इस मामले में तीन लोगों का बयान दर्ज किया गया। उक्त बयान में मानसिक अत्याचार का तथ्य सामने आया है।
पहले दिन जेयू नहीं आए थे स्वप्नदीप के पिता
शनिवार को सौरव चौधरी के वकील अरिंदम दास ने बताया कि स्वप्नदीप के पिता कभी भी जादवपुर नहीं आए थे। स्वप्नदीप का दाखिला 3 अगस्त को हुआ था। 6 अगस्त को वह जादवपुर में क्लास करने आया था। जादवपुर मेन हॉस्टल में कमरा पाने के लिए सौरव चौधरी और मनोतोष मंडल ने उसकी मदद की थी। उस कमरे में विमान नामक एक युवक रहता है। सौरव मृत छात्र का रूममेट नहीं था और न ही उसका क्लासमेट था। 10 तारीख को स्वप्नदीप ने जिस मोबाइल से फोन किया था वह भी सौरव का नहीं है। उसके गिरने के बाद भी जो फोन स्वप्नदीप के घरवालों को किया गया वह भी सौरव के मोबाइल से नहीं किया गया। सौरव को इस मामले में फंसाया जा रहा है।
अत्याचार हुआ है, मोटिव जाना जरूरी है-सरकारी वकील
इसके जवाब में सरकारी वकील सौरीन घोषाल ने कहा कि पिता पहले नहीं आए थे यह सच है। तीन छात्रों का बयान रिकॉर्ड किया गया है। हॉस्टल सुपर का भी बयान रिकॉर्ड किया गया है। कहा जा रहा है कि धक्का देकर उसे नीचे फेंका गया है। इसमें कौन-कौन शामिल है? घटना का पुनर्निर्माण करना होगा। इस घटना का मोटिव जानना होगा। अभियुक्त से सच बुलवाने में समय लगेगा। जिस फोन को जब्त किया गया उसका कॉल लिस्ट निकाला जाएगा। इस दौरान न्यायाधीश ने जांच अधिकारी से पूछा कि वह कुछ कहना चाहते हैं या नहीं। इस पर जांच अधिकारी ने कहा कि मामले की जांच के लिए पुलिस हिरासत की जरूरत है। सभी पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने अभियुक्त को 22 अगस्त तक पुलिस हिरासत में भेज दिया।

Visited 121 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता: दक्षिण बंगाल भीषण गर्मी से झुलस रहा है। लोगों के लिए सुबह-सुबह तेज धूप में निकलना मुश्किल हो गया
मंगाफ: कुवैत के मंगाफ में बुधवार सुबह एक ब्लिडिंग में लगी भीषण आग में 41 लोगों की मौत हो गई
अयोध्या: राम मंदिर के चलते देश-दुनिया में अयोध्या का अपना अलग स्थान है। ऐसे में इसकी सुरक्षा के लिए तमाम
कोलकाता: पश्चिम बंगाल में अब रद्द की जा चुकी शिक्षकों की भर्ती के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उन
नदिया : नदिया जिले की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बांग्लादेशी मवेशी तस्करों ने बीती रात BSF जवानों पर हमला कर दिया। इस
कोलकाता: राज्य के अधिकांश जिले भीषण गर्मी से तप रहा है। दक्षिण बंगाल के लोग भीषण गर्मी से बेहाल हैं।
नई दिल्ली: हिंदू धर्म शास्त्रों में एकादशी तिथि का विशेष महत्व है। हर माह दोनों पक्षों की एकादशी को एकादशी
हावड़ा: बीते दिन रानीगंज के बाद अब कोलकाता से सटे हावड़ा में दिनदहाड़े डकैती की वारदात हुई है। दरअसल, हावड़ा
नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने NEET गड़बड़ी को लेकर सुनवाई के दौरान नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) को नोटिस जारी किया
हावड़ा : हाल ही में हुई गार्डनरीच की घटना ने हावड़ा निगम की आंखें खोल दीं। इसके बाद निगम की ओर
कोलकाता: पार्क स्ट्रीट के पार्क सेंटर में भीषण आग लग गई है। घटनास्थल पर दमकल की 9 गाड़ियां मौजूद है।
कोलकाता: मोदी कैबिनेट का गठन हो चुका है। अब केंद्र सरकार की ओर से राज्य के लिए बड़ी खुशखबरी है।
ऊपर