JU Ragging : आखिर घटना की रात क्या हुआ था? पुतला फेंककर पुलिस ने …

शेयर करे

– पुननिर्माण के समय फारेंसिक विशेषज्ञों के साथ डीसी एएसडी थी मौजूद
कोलकाता : जादवपुर विश्वविद्यालय के हॉस्टल में छात्र की मौत के मामले को लेकर पुलिस ने पुतले के जरिए घटना का पुनर्निर्माण किया।  जांच अधिकारी एक डमी पुतला लेकर हॉस्टल में पहुंचे थे। इससे पहले अभियुक्तों को लेकर पुनर्निर्माण किया गया था। सोमवार को मृत छात्र के आकार का डमी पुतला ले जाकर पुनर्निर्माण किया गया। मृत छात्र के वजन और लम्बाई के हिसाब से अनुमानिक पुतला लेकर मेन हॉस्टल में जांच अधिकारी पहुंचे थे। हॉस्टल के ए2 ब्लॉक में पुनर्निर्माण किया गया। जादवपुर मेन हॉस्टल के ए1 ब्लॉक के रूम नं. 104 में मृत छात्र को ले जाकर जबरन उसे एक पत्र पर हस्ताक्षर कराया गया था। दूसरी तरफ इस ब्लॉक के 68 नं. रूम में मृत छात्र रहता था। हॉस्टल के सेकेंड फ्लोर पर 68 नं. कमरा है और थर्ड फ्लोर पर 104 नंबर कमरा है। जांच अधिकारियों को पता चला है कि पहले कमरा नं. 104 में मृत छात्र को ले जाकर उसे एक दूसरे छात्र नेता के नाम पर पत्र लिखने के लिए बाध्य किया गया। हालांकि बाद में जांच में पता चला कि दीपशेखर नामक एक अन्य छात्र ने उक्त पत्र लिखा था। उस पर प्रथम वर्ष के छात्र ने साइन किया था।
कमरे में छात्र को प्रताड़ित किया गया
पत्र हस्ताक्षर करने के बाद छात्र को वापस 68 नं. कमरे में लाया गया। आरोप है कि उस कमरे में छात्र को प्रताड़ित किया गया। आरोप है कि प्रताड़ना नहीं सह पाने के कारण छात्र बगल के ए2 ब्लॉक के बरामदा से नीचे गिर गया था। जांच अधिकारियों के अनुसार मृत छात्र को हॉस्टल में उसके आने के पहले दिन से उसे मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा था। इस बीच 9 अगस्त को हॉस्टल के बरामदा से गिरकर उसकी मौत हो गयी। सोमवार को होमीसाइड विभाग के अधिकारी मामले की जांच के लिए हॉस्टल में पहुंचे। उनके साथ फॉरेंसिक विशेषज्ञ भी मौजूद थे। इस दौरान डीसी एसएसडी भी मौजूद थीं।
डमी पुतला और तकिया भी फेंका

घटना के पुनर्निर्माण के लिए हॉस्टल के तीसरे तल्ले से एक डमी पुतला और तकिया भी फेंका गया। इस दौरान देखा गया कि अगर कोई धक्का देता है तो एक व्यक्ति उतनी ऊंचाई से कितनी दूर आकर गिरता है। यही नहीं अगर व्यक्ति खुद छलांग लगाता है तो वह कहां आकर गिरता है। यही नहीं अगर कोई असावधानी पूर्वक नीचे गिरता है तो वह कहां पर गिर सकता है। जांच अधिकारियों ने ऊंचाई से पुतला फेंककर जांच की। यहां उल्लेखनीय है कि इससे पहले जांच अधिकारी अभियुक्तों को हॉस्टल में लाकर घटना का पुननिर्माण किया था।

छात्र ने 65 नं. कमरे में खुद को बंद करने की कोशिश की थी
पुलिस सूत्रों के अनुसार सीनियर के रैगिंग से बचने के लिए छात्र ने खुद को 65 नं. कमरे में बंद करने की कोशिश की थी। उस कमरे में कोई नहीं रहता है, लेकिन सीनियर ने उसे ऐसा करने नहीं दिया। इसके बाद छात्र के कपड़े उतार दिए गए। सीनियर द्वारा परेशान किए जाने से तंग आकर संभवत: छात्र ने छलांग लगायी थी।

 

Visited 82 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

नई दिल्ली: हर साल 21 जून को इंटरनेशनल योग दिवस मनाते हैं। हमारे ऋषियों-मुनियों द्वारा योग को विकसित किया गया
कोलकाता : मेट्रो रेलवे द्वारा चलाये जा रहे स्पेशल नाइट मेट्रो के समय को 20 मिनट कम कर दिया गया
कोलकाता: पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी के पास 17 जून को हुए ट्रेन हादसे ने देशवासियों को झकझोर कर रख
कोलकाता : अगले दो से तीन घंटों में कोलकाता में हल्की बारिश होने वाली है। शहर के अधिक हिस्सों में
पटना: नीट पेपर लीक मामला पूरे देशभर में छाया हुआ है। बिहार के डिप्टी सीएम विजय सिन्हा ने बड़ा दावा
कोलकाता : मानसून दस्तक देने वाला है। इससे पहले इसे लेकर तैयारियों को पूरा करने का निर्देश शहरी विकास तथा
कोलकाता: मौसम विभाग के पूर्वानुमान पर लोगों का भरोसा खत्म हो गया है। पिछले कुछ दिनों से बारिश का पूर्वानुमान
पटना: नीतीश सरकार को पटना हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। बिहार में आरक्षण का दायरा बढ़ाए जाने के नीतीश
नोएडा: देश के उत्तरी हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है। नोएडा में अलग-अलग जगहों पर बीते मंगलवार को 14
कोलकाता: बंगाल में लोकसभा चुनाव के नतीजे वाले दिन डेबरा में पुलिस कस्टडी में BJP कार्यकर्ता की मौत हुई थी।
कोलकाता: दक्षिण बंगाल के अधिकांश हिस्सों में आज सुबह से ही आसमान में बादल मंडरा रहा है। धूप नहीं होने
नई दिल्ली: NEET परीक्षा को लेकर दायर कई याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान काउंसलिंग रोकने और तत्काल
ऊपर