Election 2024: लोकसभा चुनाव को लेकर बंगाल में सख्ती, केंद्रीय बलों की 27 और कंपनियां पहुंचेंगी

Fallback Image

कोलकाता: बंगाल में लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों द्वारा जोर-शोर से चुनाव का प्रचार किया जा रहा है। चुनाव के बीच हिंसा को रोकने के लिए केंद्रीय बलों की 27 और कंपनियां बंगाल आ रही हैं। चुनाव आयोग के सूत्रों के मुताबिक एक अप्रैल को 27 कंपनी बंगाल पहुंचेगी। फिलहाल राज्य में 150 CAPF कंपनी मौजूद हैं। लोकसभा चुनाव की घोषणा से पहले बंगाल में बड़े पैमाने पर केंद्रीय बलों की 150 कंपनियां तैनात की गई हैं। उन्होंने विभिन्न जिलों में रूट मार्च भी शुरू कर दिया है।

केंद्रीय बलों की 920 कंपनियां में से 177 कंपनियां होंगी तैनात 

आयोग के सूत्रों के मुताबिक, बंगाल में केंद्रीय बलों की अतिरिक्त 27 कंपनियां तैनात की जाएंगी। लोकसभा चुनाव की घोषणा हो चुकी है। पहले चरण का मतदान 19 अप्रैल को होगा। पहले चरण में कूचबिहार, अलीपुरद्वार और जलपाईगुड़ी में वोटिंग होगी। आयोग ने 1 अप्रैल तक बंगाल में सैनिकों की कुल 177 कंपनियां तैनात करने का निर्णय लिया। पहले यह बताया गया था कि स्वतंत्र और शांतिपूर्ण लोकसभा चुनाव सुनिश्चित करने के लिए पश्चिम बंगाल में केंद्रीय बलों की अधिकतम 920 कंपनियां तैनात की जाएंगी। फिलहाल 177 कंपनियों मौजूद होंगी।

चुनावी हिंसा और कानून-व्यवस्था को लेकर चुनाव आयोग का फैसला

पिछले लोकसभा चुनाव में राज्य में केंद्रीय बलों की 740 कंपनियां तैनात की गई थीं। पिछले पंचायत चुनाव के लिए राज्य में केंद्रीय बलों की 800 कंपनियां तैनात की गई थीं। आयोग के सूत्रों के मुताबिक, बंगाल में चुनाव में हिंसा होती है इसलिए ज्यादा केंद्रीय बल तैनात करने का फैसला लिया गया। इसके साथ ही हाल ही में संदेशखाली की घटना ने भी राज्य और पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है। इस घटना के बाद राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए राष्ट्रीय चुनाव आयोग आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर कोई जोखिम नहीं लेना चाहता है। इसीलिए केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजे गए पत्र के मुताबिक राष्ट्रीय चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव के लिए करीब 920 कंपनियां मांगी हैं।

कश्मीर से ज्यादा सुरक्षाकर्मी बंगाल में होंगे तैनात

बंगाल के बाद सबसे ज्यादा केंद्रीय बल की मांग जम्मू-कश्मीर के लिए है। बंगाल की तुलना में जम्मू-कश्मीर के लिए लगभग 300 कंपनियां कम है। बंगाल के लिए 920 कंपनियों का अनुरोध किया गया है, जबकि जम्मू-कश्मीर के लिए 635 कंपनियों का अनुरोध किया गया है। आयोग ने नक्सल प्रभावित छत्तीसगढ़ के लिए अधिकतम 360 कंपनी बल रखने की योजना बनाई है।

Visited 92 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

विज्ञापन मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट से BJP को नहीं मिली राहत…

कोलकाता : कलकत्ता उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ ने बुधवार को एकल पीठ के उस आदेश में हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया है। बता आगे पढ़ें »

कलकत्ता हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, साल 2010 के बाद बंगाल में बने सभी OBC सर्टिफिकेट रद्द

डेढ़ घंटे में उड़ाए 48 हजार रुपए, पुणे हिट एंड रन केस में खुलासा

पति से झगड़े के बाद महिला ने अपनी 3 साल की बेटी को मार डाला…इसके बाद शव को लेकर…

‘बंगाल में BJP की 30 सीटें आते ही टूट जाएगी TMC’, कांथि में बोले अमित शाह

कोलकाता में बांग्लादेश के सांसद की संदिग्ध मौत, 13 मई से थे लापता

kolkata: मेट्रो में यात्रा करना हुआ आसान, अब UPI से कर सकते हैं भुगतान

8 संदिग्ध आतंकी 1.5 साल में हुए थे रिहा, अब सुप्रीम कोर्ट ने दिया झटका

Kolkata Air Pollution: कोलकाता की हवा में हुआ सुधार, KMC का दावा

आपके नाम के पार्सल में मिला है 150 ग्राम ड्रग्स….कहकर व्यक्ति से ठग लिया 2 करोड़

ऊपर