Cyclone Remal : बंगाल में आ रहे भीषण चक्रवाती तूफान को लेकर बड़ा अपडेट !

शेयर करे

26 व 27 मई को कोलकाता, दक्षिण व उत्तर 24 परगना, और हावड़ा में भारी बारिश की चेतावनी

कब कहां टकराएगा तूफान
बंगाल के कैनिंग से करीब 810 किलोमीटर दक्षिण में मध्य बंगाल की खाड़ी पर बन रहे दबाव क्षेत्र के सघन होकर 25 मई की सुबह तक चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है। 26 मई की मध्यरात्रि को पश्चिम बंगाल के सागर द्वीप और बांग्लादेश के खेपुपारा के तटों को पार करने की संभावना है।
कोलकाता : बंगाल की खाड़ी में बना दबाव का क्षेत्र और ज्यादा सघन होकर एक भीषण चक्रवाती तूफान का रूप ले सकता है और इसके 26 मई की मध्यरात्रि के आसपास पश्चिम बंगाल के सागर द्वीप व बांग्लादेश के खेपुपारा के बीच जमीन से टकराने का अनुमान है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को बताता कि चक्रवाती तूफान के जमीन से टकराने पर पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में भारी बारिश हो सकती है। 26 व 27 मई को कोलकाता, दक्षिण व उत्तर 24 परगना, पूर्व मेदिनीपुर और हावड़ा जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी दी है। विभाग ने इन दिनों में जिलों में 100 से 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चल सकती है। दक्षिण 24 परगना में 90 से 100 किमी प्रति घंटे, पूर्व मेदिनीपुर में 80 से 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चलने की चेतावनी जारी की है जबकि कोलकाता, उत्तर 24 परगना और हावड़ा में हवा की गति 60 से 70 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने की संभावना है। मौसम विभाग ने मछुआरों को 27 मई की सुबह तक उत्तरी बंगाल की खाड़ी में समुद्र में न जाने की चेतावनी दी है।

रेमल चक्रवात से निपटने के लिए निगम ने की पूरी तैयारी

शुरू हुई पेड़ों की छंटाई

एमएमआईसी तारक सिंह ने बताया कि ड्रेनेज विभाग के साथ ही डिजास्टर मैनेजमेंट से लेकर पार्क एंड स्क्वायर विभाग भी तैयार है। उनकी ओर से तूफान को लेकर महानगर के प्रमुख इलाकों में जहां पेड़ है, उनकी छंटाई शुरू कर दी गई। इस आपदा से निपटने के लिए निगम कमर कस कर तैयार है। प्रत्येक निकासी पंपिंग स्टेशन पर 24 घंटे निगरानी रखने का भी निर्देश दिया गया है।

1 घंटे में 100 मि.मी. भी हुई बारिश तो 3 घंटे में निकाल दिया जायेगा पानी

एमएमआईसी का दावा

चक्रवाती तूफान रेमल से निपटने के लिए कोलकाता नगर निगम पूरी तरह से तैयार है। इस दौरान कहीं भी जलजमाव ना हो इसे लेकर ड्रेनेज विभाग अलर्ट पर है। इस संबंध में ड्रेनेज विभाग के एमएमआईसी तारक सिंह ने बताया कि रेमल को लेकर विभाग पूरी तरह से तैयार है। इस दौरान अगर 1 घंटे में 100 मिमी. भी बारिश होती है और लॉकगेट खुला हुआ होगा तो 3 घंटे में जलजमाव की समस्या खत्म हो जायेगी। अगर लॉकगेट बंद रहता है तो भी 7 घंटे में महानगर के लोगों को जलजमाव की समस्या से निजात मिल जायेगा। अब वह स्थिति नहीं है कि 3 से 4 दिनों तक जलजमाव की समस्या बनी रहे। साथ ही निगम द्वारा शहर के किसी भी सड़क पर जलजमाव की जानकारी, निगम के कार्यरत पम्पिंग स्टेशन और सड़क पर गिरे पेड़ों की जानकारी आसानी से हासिल करने के लिए निगम के कंट्रोल रूम का सहारा लिया जायेगा। इसके जरिये सीसीटीवी द्वारा लगातार निगरानी रखी जायेगी। इसके साथ ही अधिक जलजमाव वाले इलाके जैसे पार्क सर्कस क्रासिंग, अम्हर्स्ट स्ट्रीट, अलीपुर, खिदिरपुर सहित कई इलाकों को चिह्नित किया गया है। जहां बारिश के दौरान सड़कों पर लंबे समय तक जल जमाव की समस्या रहती है, वहां विशेष ध्यान दिया जायेगा।

 

Visited 695 times, 2 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

नोएडा: देश के उत्तरी हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है। नोएडा में अलग-अलग जगहों पर बीते मंगलवार को 14
कोलकाता: बंगाल में लोकसभा चुनाव के नतीजे वाले दिन डेबरा में पुलिस कस्टडी में BJP कार्यकर्ता की मौत हुई थी।
कोलकाता: दक्षिण बंगाल के अधिकांश हिस्सों में आज सुबह से ही आसमान में बादल मंडरा रहा है। धूप नहीं होने
नई दिल्ली: NEET परीक्षा को लेकर दायर कई याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान काउंसलिंग रोकने और तत्काल
कोलकाता : मेट्रो की ओर से रात 11 बजे चलायी जा रही नाइट स्पेशल मेट्रो से कम आय हो रही है।
गया: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बुधवार(19 जून) को बिहार के राजगीर में ऐतिहासिक नालंदा यूनिवर्सिटी के नए कैंपस का
कोलकाता : कोलकाता शहर में एक बार फिर बम से उड़ाने की नकली धमकी दी गयी। इस बार एसएसकेएम जैसे
कोलकाता : अब इंतजार की घड़िया खत्म हो गई है। बंगाल में कई दिनों तक बारिश का पूर्वानुमान जारी किया
कोलकाता : बस्ती में रहने वाले लोग भी सम्मान के साथ रहें, उन्हें बस्तीवाले कहकर न पुकारा जाये इसलिए मुख्यमंत्री
कंचनजंघा एक्सप्रेस दुर्घटना में रेल डाक सेवा कर्मचारी की मौत कोलकाता : सोमवार की सुबह 8.30 बजे का वक्त। न्यू
नई दिल्ली: मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा का विशेष महत्व है। कहा जाता है कि आर्थिक समस्याओं से
कोलकाता: पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सीवी आनंद बोस ने आज सोमवार(17 जून) सुबह राजभवन में तैनात कोलकाता पुलिस के कर्मियों
ऊपर