आश्चर्य किंतु सत्य : बड़ाबाजार में गायब हो गई 2 किमी. की सड़क !

 मछुआ फल मंडी से होकर गुजरती है यह सड़क
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : महानगर के सबसे व्यस्ततम इलाकों में शुमार एक सड़क कागज पर मौजूद है पर हकीकत में यह लापता हो चुकी है। दरअसल इसकी वजह यह है कि फल का कारोबार करने वालों ने इस पूरी सड़क को अपनी दुकान बना दी है। जो थोड़ा हिस्सा बाकी बचा है उस पर ट्रक वालों ने कब्जा कर लिया है। हैरान करने वाला यह मामला राज्य के सबसे बड़े व्यावसायिक क्षेत्र बड़ाबाजार का है। कई साल पहले मध्य कोलकाता के लोग इसी सड़क से गुजरते थे। वे इस प्रमुख सड़क का इस्तेमाल करते हुए कभी रवींद्र सरणी से चित्तरंजन एवेन्यू जाया करते थे लेकिन अब यह सड़क केवल स्थानीय दुकानों पर लगे बोर्ड पर केवल पता मात्रा बनकर रह गई है। दरअसल, राहगीरों के चलने के लिए तैयार की गई मदन मोहन बर्मन स्ट्रीट का एक हिस्सा आज फल विक्रेताओं के अतिक्रमण की भेंट चढ़ गया है। इस सड़क पर बीते कई वर्षों से राहगीरों और वाहनों का आवागमन थम गया है। वार्ड 39 स्थित मदन मोहन बर्मन स्ट्रीट का एक हिस्सा आज सड़क के नाम से नहीं बल्कि मछुआ बाजार के नाम से परिचित है। इस सड़क पर अब लोग नहीं चलते बल्कि यहां फल मंडी सजती है।
एम एम बर्मन स्ट्रीट पर चलना जैसे सांप सीढ़ी का खेल
एम एम बर्मन स्ट्रीट पर अव्यवस्थित तरीके से फलों का डाला लगाने के कारण राहगीरों को सड़क पर चलने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ता है। सड़क पर लगी इस फल मंडी में घूम रहे ग्राहक को एक दुकान से दूसरी दुकान की तरफ जाने के लिए जगह तलाश कर सड़क के दाएं- बाएं जगह की तलाश करनी पड़ती है। इलाके में पैदल यात्रा करना सांप सीढ़ी के खल जैसा प्रतीत होता है। इतना ही नहीं पूरा इलाका काला और नीले रंग के तिरपाल से ढका रहता है।
सड़क पर बाइक चलने की जगह नहीं पर इलाके में पार्क रहते हैं दर्जनों ट्रक
एमएम बर्मन स्ट्रीट पर लगने वाली फल मंडी में रोजाना फलों से लदे बड़े बड़े ट्रक प्रवेश करते हैं। जहां तहा पार्क इन ट्रकों की वजह से सड़क और भी संकरी हो गई है। वहीं सड़कों पर लगे डाला की वजह से कोई भी वाहन इलाके में प्रवेश नहीं कर सकता। रवींद्र सरणी से चित्तरंजन एवेन्यू जाने के लिए वाहन चालकों को मुंशी सदरुद्दीन लेन होकर जाना पड़ता है।
प्रशासन के नियमों की उड़ रही हैं धज्जियां
एक तरफ जहां कोलकाता नगर निगम और टाउन वेंडिंग कमेटी फुटपाथ पर हुए अतिक्रमण पर नकेल कसने के लिए कार्रवाई कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ मदन मोहन बमर्न स्ट्रीट पर टीवीसी के सभी नियमों का उल्लंघन कर बीते कई दशकों से कैरेज वे, ब्लॉक टॉप और फुटपाथ के एक तिहाई हिस्से से अधिक जगह पर डाला लगाया जा रहा है।
फल विक्रेताओं ने कहा…
इस बारे में पूछे जाने पर अधिकांश दुकानदारों ने इस विषय पर बात करने से मना कर दिया। हालांकि कुछ दुकानदारों ने बताया कि टाउन वेंडिंग कमेटी की तरफ से इलाके का कोई सर्वेक्षण नहीं किया गया है। वहीं, इलाके में वाहनों के प्रवेश करने पर निषेध लगाए जाने के बारे में पूछे जाने के विषय पर उन्होंने कहा कि कई दशकों से इलाके में यहां फल मंडी लगाई जा रही है। मछुआ बाजार महानगर का सबसे बड़ा थोक फल बाजार है। इस बाजार में सैकड़ों फल विक्रेता दुकानदारी करते हैं।

Visited 1,166 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Kolkata: फूलबागान के पास जूट मिल के गोदाम में लगी भीषण आग, मौके पर दमकल की टीम मौजूद

कोलकाता: शहर के फूलबागान स्थित कादापाड़ा के जूट मिल गोदाम में आग लग गई। घटना आज मंगलवार(27 फरवरी) की सुबह की बताई जा रही है। आगे पढ़ें »

कहीं आप भी तो एक साथ कई तकिया लेकर नहीं सोते हैं? हो सकती हैं…

कोलकाता : सोते समय सॉफ्ट तकिया लगाना सही हो सकता है लेकिन अगर आप एक से ज्यादा तकिया, हार्ड तकिया या फिर ऊंचा तकिया लगाकर आगे पढ़ें »

ऊपर