Kolkata Dengue Alert : बंगाल में डेंगू की स्थिति चिंताजनक, नवान्न में हुई अहम बैठक

शेयर करे

कई जिलों में डेंगू की स्थिति चिंताजनक, नवान्न ने दिये कई दिशा – निर्देश
डेंगू प्रभावित क्षेत्रों का ड्रोन से भी सर्वेक्षण
30 से अधिक क्षेत्र डेंगू के प्रति संवेदनशील
मलेरिया पर भी किया गया सतर्क
नवान्न से होगी स्थिति पर कड़ी निगरानी
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में डेंगू के मामले चौंकाने वाले है। पीड़ितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इस स्थिति को देखते हुए रविवार काे छुट्टी के दिन नवान्न में अहम बैठक हुई। गृह सचिव बी पी गोपालिका के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी एन एस निगम के साथ विभिन्न जिलों के जिलाधिकारियों, म्युनिसिपल कमिश्नर, मेडिकल कॉलेजों और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ वर्चुअली एक आपात बैठक की गई। डेंगू के साथ ही मलेरिया पर भी सतर्क किया गया है। सीएम ममता बनर्जी फिलहाल स्पेन दौरे पर हैं और उस दौरे पर राज्य के मुख्य सचिव हरिकृष्ण द्विवेदी भी उनके साथ हैं। वर्तमान में प्रशासनिक कार्य गृह सचिव के हाथों में हैं। उन्होंने इस बैठक की अध्यक्षता की। राज्य में 30 से अधिक क्षेत्र डेंगू के प्रति संवेदनशील हैं। उल्लेखनीय है कि इस वर्ष 5 सितंबर तक डेंगू से पीड़ितों की संख्या 24000 से अधिक पहुंच गयी है वहीं केएमसी एरिया में मरने वालों की संख्या केवल दो बतायी गयी है। गृह विभाग के सचिव ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बंगलादेश में डेंगू के मामले ज्यादा आ रहे हैं। यहां हमलोगों ने बॉर्डर एरिया को अलर्ट किया।
इन जिलों पर विशेष फाेकस
जिला प्रशासन की तैयारियों के अलावा गृह सचिव और स्वास्थ्य सचिव ने कई जिलों में डेंगू और मलेरिया की स्थिति पर चिंता जतायी है। बैठक में कई जिलों की चिंताजनक स्थिति पर भी चर्चा हुई। गृह सचिव ने कहा कि हुगली, नदिया, हावड़ा, उत्तर व दक्षिण 24 परगना, मालदा और मुर्शिदाबाद में डेंगू और मलेरिया के मामले अधिक आ रहे हैं। कई इलाकों में डेंगू का संक्रमण बढ़ रहा है। उन्होंने स्थानीय प्रशासन से डीएम से कहा कि इस ओर गंभीरता से कदम उठाया जाये।
नवान्न ने दिये अहम दिशा – निर्देश
डेंगू की रोकथाम के लिए इस बैठक से अधिकारियों को कई दिशा निर्देश दिया गया है। यदि कहीं खाली जमीन है तो उसे स्थानीय प्रशासन द्वारा साफ कराया जाये। किसी भी तालाब में गंदगी या मलबा जमा नहीं होने देना चाहिए। सभी गतिविधियों की रिपोर्ट समय पर नवान्न भेजने को कहा गया है। सूत्रों के मुताबिक केन्द्र की विभिन्न परियोजनाओं में जहां – जहां अनावश्यक जल जमाव हो रहा है, इस संबंध आवश्यक कदम उठाने के लिए केंद्र को पत्र लिखने के लिए अधिकारियों से कहा गया है। वहीं पुलिस स्टेशन परिसर, सरकारी कार्यालय परिसर इन जगहों पर भी पानी का जमाव ना हो, इस पर ध्यान रखने के लिए कहा गया है।
रेफरल मामला नहीं
डेंगू के बढ़ते मामले को देखते हुए अस्पतालों में हर कदम उठाने के लिए कहा गया है। किसी भी तरह से कोई रेफरल का मामला नहीं हो। गृह सचिव ने मेडिकल कॉलेजों के प्रिंसिपलों और अधीक्षकों को निर्देश दिया है। विभिन्न निगम कमिश्नरों को विभिन्न नालों और नालों में जमा पानी को निकालने के लिए आवश्यक कदम उठाने का निर्देश दिया गया है।

Visited 84 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता : देवों के देव शिव शंभू, शिव शंकर साल का सबसे प्रिय माह श्रावण मास माना जाता है। इस
तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा सितंबर और चौथे सेमेस्टर की परीक्षा मार्च में कोलकाता : 12 साल बाद उच्च माध्यमिक के
हावड़ा : तीन युवकों पर शनिवार को 12 साल की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म कर उसे दफनाने का आरोप लगा
कल मुहर्रम पर महानगर में सुरक्षा चाक-चौबंद, ट्रैफिक होगी प्रभावित करीब 4 हजार पुलिस कर्मी रहेंगे तैनात कल शहर में
कोलकाता : 6 दोस्त मंदारमणि की यात्रा पर गए थे। सभी लोग समुद्र में स्नान करने गये। तभी 2 लोगों
रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया हुई शुरू कोलकाता : माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कक्षा 9 की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। इसे
एक नजर प्याज : 50 रु. प्रति किलो टमाटर : 100 रु. प्रति किलो कोलकाता : पश्चिम बंगाल टास्क फोर्स
संजय मुखर्जी को बनाया गया डीजी दमकल कोलकाता : लोकसभा चुनाव और विधानसभा के उपचुनाव खत्म होते ही एक बार
कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश के बाद ईबी व टास्क फोर्स द्वारा मिलकर महानगर के विभिन्न बाजारों में
कोलकाता : कोलकाता में सोमवार को भगवान जगन्नाथ के 53वां उल्टा रथयात्रा का आयोजन किया गया। इस्कॉन कोलकाता के सौजन्य
कोलकाता : महानगर व आसपास क्षेत्रों के 19 अहम ब्रिज और फ्लाईओवर की मरम्मत की जायेगी। केएमडीए ने इसकी तालिका
कोलकाता : राज्य के मोटर ट्रेनिंग स्कूलों पर परिवहन विभाग द्वारा नकेल कसी जाने के लिये कई अहम कदम उठाये
ऊपर