2 साल से रात को घोड़े की तरह ‘हिनहिना’ कर पड़ोसियों को किया तंग, अब मिली ये सजा

मास्को : रूस से एक अनोखा मामला सामने आया है। सुनने में शायद अजीब लगे पर यहां एक शख्स को सिर्फ इसलिए गिरफ्तार किया गया है क्योंकि वो रात अपने पड़ोसियों को रात के वक्त सोने नहीं देता था। दिलचस्प बात ये है कि ये शख्स दूसरों को परेशान करने के लिए घोड़े की आवाज का इस्तेमाल किया करता था।
रात में निकालता था घोड़े की आवाज
बताया जाता है कि युरी कोंड्रात्येव नाम का शख्स रात में रोजाना करीब 2 घंटे तक घोड़े के हिनहिनाने और भागने की आवाज निकालता था, जिससे आसपास रहने वाले लोगों की नींद खराब होती थी। पड़ोसी इस शख्स की आदत से इतने परेशान थे कि उन्होंने 80 बार इसकी शिकायत पुलिस और स्थानीय अधिकारियों से की। लेकिन जुर्माना देकर छोड़ दिए जाने वाले इस अपराध के कारण वो बचता रहा। लेकिन आखिरकार पुलिस ने शख्स को गिरफ्तार कर ही लिया। रूसी कानून के तहत पड़ोसियों को लगातार परेशान करने के लिए शख्स को अब 3 साल 5 महीने की सजा दी गई है।
2 साल से कर रहा था पड़ोसियों को परेशान
युरी ने अपने पड़ोसियों को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने के लिये इस तरह की हरकत की। पड़ोसी बताते हैं कि ये शख्स बेरोजगार था, जिसे उसे पत्नी कुछ साल पहले छोड़कर चली गई थी। इसके बाद ही उसने अपने पड़ोसियों को इस तरह की आवाजों से परेशान करना शुरू कर दिया था। पहले तो वो घर में तेज आवाज में घंटों गाने बजाया करता था, और बाद में उसने इस रिकॉर्ड को घोड़े के हिनहिनाने और दौड़ने की आवाज से बदल दिया।
मानसिक रूप से पूरी तरह फिट है शख्स
ये बात अलग है कि जब पड़ोसियों ने शिकायत कर उसे मानसिक अस्पताल भेजना चाहा तो शख्स ने मनोचिकित्सक का सर्टिफिकेट पेश कर दिया, जिसमें लिखा गया था कि वो मानसिक तौर पर बिल्कुल ठीक है। हालांकि घोड़े की आवाज से रात को पड़ोसियों तंग करना उसने जारी रखा। अप्रैल 2018 से दिसंबर 2020 के बीच उसके खिलाफ 80 शिकायतें हुईं और उसने कई बार जुर्माना भी भरा लेकिन पड़ोसियों को टॉर्चर करना उसने कभी बंद नहीं किया।
पूरी दुनिया में ऐसा पहला मामला
आखिरकार उसके खिलाफ रूस में कानून की धारा 117 के तहत उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ और उसे जेल भेजा गया। रूस के इतिहास में ये अपने तरह क पहला मामला है। रूस क्या, शायद किसी ही देश में कोई शख्स इसलिए जेल गया हो, क्योंकि उसने पड़ोसियों को घोड़े की आवाज निकालकर सोने नहीं दिया। ज्यादातर ऐसे केसेज में फाइन देकर ही शख्स को छोड़ दिया जाता है। हालांकि यहां भी युरी ने आखिर तक ये कुबूल नहीं किया कि उसने ये आवाजें निकाली और लोगों को तंग किया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

करियर की समस्या नहीं छोड़ रहीं पीछा? ये आसान उपाय दिलाएंगे मनचाही सफलता

कोलकाता : करियर जिंदगी में बहुत अहम होता है। यदि करियर में मुश्किलें आएं तो व्‍यक्ति कई तरफ से घिर जाता है। करियर का तनाव आगे पढ़ें »

ऊपर