भारत-अमेरिका के बीच स्वच्छ ऊर्जा एवं पर्यावरणीय सहयोग को बढ़ावा देने का विधेयक पेश

वाशिंगटन: डेमोक्रेटिक पार्टी के एक शीर्ष सीनेटर ने स्वच्छ ऊर्जा प्रौद्योगिकियों के संबंध में भारत के साथ द्विपक्षीय सहयोग के लिए मंच स्थापित करने के मकसद से अमेरिकी सीनेट में बुधवार को एक विधेयक पेश किया।

सीनेट की विदेश मामलों की समिति के वरिष्ठ सदस्य रॉबर्ट मेनेंडेज ने ‘भारत के साथ स्वच्छ ऊर्जा एवं जलवायु सहयोग प्राथमिकता’ विधेयक पेश किया जिसमें ‘अमेरिका-भारत स्वच्छ ऊर्जा एवं विद्युत संचरण साझेदारी’ (सीईपीटीपी) को स्वच्छ ऊर्जा प्रौद्योगिकी एवं ऊर्जा संचरण को लेकर दोनों देशों के बीच सहयोग के लिए मुख्य मंच के तौर पर स्थापित करने की बात की गई है।

भारत-अमेरिका को इस साझेदारी से क्या होगा फायदा
सीईपीटीपी के तहत गतिविधियों में

– स्वच्छ ऊर्जा प्रौद्योगिकियों पर संयुक्त अनुसंधान एवं विकास को प्रोत्साहित करना

– भारतीय स्वच्छ ऊर्जा बाजार में अमेरिकी निजी निवेश को बढ़ावा देना

– भारत में नई एवं नवीकरणीय ऊर्जा उत्पादन क्षमता विकसित करने की पहल को सहयोग देना

एक बयान में कहा गया है कि यह विधेयक ‘क्लाइमेट रिजिलिएंस’ और जोखिम कम करने को लेकर अमेरिका और भारत के बीच सहयोग को भी प्रोत्साहित करता है।

इस साझेदारी ने भारत के नेतृत्व में अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन में अमेरिका की भागीदारी की भी मांग की जो सौर ऊर्जा में महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय निवेश जुटाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इसने:

– अमेरिका से इलेक्ट्रिक वाहनों के उत्पादन पर अनुसंधान

– विकास और निजी क्षेत्र के सहयोग को बढ़ावा देने

– इलेक्ट्रिक वाहनों के व्यापक उपयोग का समर्थन करने के लिए एक विस्तारक चार्ज स्टेशन नेटवर्क के नियोजन और निष्पादन का आग्रह

कानून अक्षय ऊर्जा प्रौद्योगिकी, एयर कंडीशनिंग प्रौद्योगिकी और प्रशीतन प्रणाली प्रौद्योगिकी के लिए अमेरिका और भारतीय निजी क्षेत्र की संस्थाओं के बीच बौद्धिक संपदा के साझाकरण को बढ़ावा देना चाहता है।

मेनेंडेज ने कहा, ‘जलवायु परिवर्तन के साझे खतरे और बिजली के लिए भारत की बढ़ती आवश्यकता के मद्देनजर अमेरिका और भारत के बीच स्वच्छ ऊर्जा साझेदारी मजबूत करने की आवश्यकता है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर प्रदेश के गांवों में अनाज भंडारण के लिए बनेंगे 5000 गोदाम

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार किसानों को फसल सुरक्षित रखने और उसकी अच्छी कीमत दिलाने के लिये गांवों में 5000 भण्डारण गोदाम आगे पढ़ें »

गांजे की खेती वाले कमेंट पर भड़कीं कंगना रनौत, उद्धव ठाकरे पर किया पलटवार

  मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के गांजे की खेता वाले कमेंट पर पलटवार करते हुए कहा कि जनसेवक होकर आप इस तरह आगे पढ़ें »

ऊपर