शी जिन‌पिंग की चेतावनी से बेपरवाह, हांगकांग के हजारों लोकतंत्र समर्थकों ने निकाली रैली

hong kong

हांगकांग : चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग द्वारा दी गई चेतावनी की परवाह न करते हुए ‌हांगकांग के प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार को लगातार पांचवे दिन अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। विश्वविद्यालय परिसर प्रदर्शनकारियों का केंद्र बन गए हैं। लोकतंत्र समर्थकों ने शुक्रवार को ‘मध्यान्ह भोजन आपके साथ’ अभियान शुरू किया जिसमें कार्यालयों में काम करने वाले अधिकतर कर्मचारियों ने हिस्सा लिया। उन्होंने हाथ उठाकर और पांच उंगलिया दिखाकर नारे लगाए कि ‘हम हांगकांग के साथ’ हैं। प्रदर्शनकारियों द्वारा सड़कें जाम करने और नगरीय ट्रेन में तोड़फोड़ के बाद स्थगित सेवाओं के कारण एक बार फिर कार्यालय जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

पांच उंगलियों का ‌अभिप्राय यह है

बता दें कि पांच उंगलियों का अभिप्राय पांच मांगों से है जो लोकतंत्र समर्थक कर रहे हैं। इनमें हांगकांग के नेता का स्वंतत्र चुनाव और पुलिस उत्पीड़न की स्वतंत्र जांच शामिल है। मध्य जिले में वोंग उपनाम के एक 25 वर्षीय प्रदर्शनकारी कहा, ‘‘जब 20 लाख लोगों ने शांतिपूर्ण मार्च निकाला तो सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया। अब जब पुलिस अपनी ताकत का बेजा इस्तेमाल कर रही है तो सरकार मानती है कि प्रदर्शनकारी ही समस्या हैं।’

जिनपिंग ने चेतावनी देते हुए यह कहा था

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने गुरुवार को हांगकांग की नेता कैरी लाम और पुलिस का समर्थन किया और चेतावनी देते हुए कहा कि प्रदर्शनकारी ‘एक देश दो प्रणाली’ सिद्धांत के लिए खतरा हैं जिसके तहत अर्धस्वायत्त हांगकांग में शासन होता है। उल्लेखनीय है कि हांगकांग में गत जून महीने से लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। 75 लाख आबादी वाले शहर में लोग चीन के शासन के अंतर्गत लगातार कम होती आजादी का विरोध कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों की रणनीति से इस हफ्ते पूरे हांगकांग में अराजक स्थिति उत्पन्न हो गई है। दोनों तरफ से हुई हिंसा की वजह से अबतक दो लोगों की मौत हुई है।

हड़ताल का सबसे ज्यादा असर विश्‍विद्यालयों पर

पांच दिन की हड़ताल का सबसे अधिक असर विश्वविद्यालयों में देखने को मिला है जो प्रदर्शनकारियों के केंद्र बने हुए हैं। दोनों तरफ से जारी हिंसा से विदेश में भी तनाव का माहौल है। लंदन में गुरुवार को हांगकांग की न्याय सचिव टेरेसा चेंग उस समय गिर गई जब लोकतंत्र समर्थकों ने उन्हें घेर लिया। हांगकांग की नेता कैरी लाम ने शुक्रवार को इस घटना की निंदा करते हुए इसे ‘बर्बर हमला’ करार दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

71 साल के हुए लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर

नयी दिल्ली : क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ सलामी बल्लेबाज और पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर शुक्रवार को 71 वर्ष के हो गए और उनके जन्मदिन पर आगे पढ़ें »

टमाटर में छुपे हैं अच्छी सेहत के खजाने

बचपन से ही हम लोग एक बात सुनते आ रहे हैं कि रोजाना एक सेब खाने से हमारी सेहत ठीक रहती है लेकिन शायद हम आगे पढ़ें »

ऊपर