काबुल धमाके के बाद ट्रम्प ने तालिबानी नेताओं के साथ बैठक रद्द की

trump

वॉशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ऐलान किया है कि उन्होंने तालिबान के साथ एक शांति समझौते को रद्द कर दिया है। ट्रम्प ने ट्वीट करते हुए बताया ‌कि वह रविवार को कैंप डेविड में तालिबान के शीर्ष नेताओं के अलावा अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ बैठक करने वाले थे। बताया जा रहा कि तालिबान द्वारा काबुल में एक हमले की जिम्मेदारी लेने के बाद ट्रम्प ने यहा वार्ता रद्द कर दी और समझौता बंद कर दिया। बता दें कि तालिबान द्वारा किए गए हमले में 11 लोगों के साथ एक अमे‌रिकी सैनिक की मौत हो गई थी।

2001 से अब तक 2300 अमेरिकी सैनिक मारे जा चुके

गौरतलब है कि अमेरिकी सैनिक अफगानिस्तान में तालिबान और आतंकवाद के खिलाफ 18 साल से लड़ रहे हैं। इस लड़ाई में अब तक 2300 अमेरिकी सैनिकों के साथ ‌अंतराष्ट्रीय गठबंधन नेताओं के करीब 3500 सदस्य अपनी जाव गंवा चुके। 2019 में संयुक्त राष्ट्र की आई एक रिपोर्ट के अनुसार, इस लड़ाई में 32 हजार नागरिकों की भी मौत हुई है। बता दें कि अगर ट्रम्प और और तालिबानी नेताओं के बीच शांति वार्ता में अगर समझौता होता तो अमेरिका अपने 5 हजार सैनिकों को अफगानिस्तान से वापस बुला लेता।

17 अगस्त को भी हुआ था धमाका

इससे पहले 17 अगस्त को हजारा समुदाय के एक शादी समारोह में अत्मघाती धमाका हुआ था। इस हमले में 63 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 182 अन्य घायल हो गए ‌‌‌थे। अफगानी पत्रकार बिलाल सरवरी के मुताबिक, यह घटना दारूलमान इलाके में हजारा समुदाय की शादी में हुआ था। यहां अल्पसंख्यक ‌शिया हजारा समुदाया के लोगा काफी संख्या में रहते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

shah

अमित शाह का पूर्वोत्तर को आश्वासन, अनुच्छेद 371 नहीं किया जाएगा रद्द

ईटानगर : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पूर्वोत्तर की अनोखी संस्कृति की रक्षा के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए गुरूवार को कहा आगे पढ़ें »

beaten

बालू लेकर जा रहे ट्रकों को रोकने पर सरकारी अधिकारियों की लाठी-डंडों से पिटाई

खड़गपुर : पश्चिम बंगाल के पश्चिमी मिदनापुर जिले में बालू लदे ट्रक को रोकने पर अधिकारियों के पीटे जाने का मामला सामने आया है। बताया आगे पढ़ें »

ऊपर