अमेरिका के शीर्ष अधिकारी ने हिंद महासागर में चीन की चालबाजी पर जताई चिंता

चीन: हिंद महासागर में चीन की चालबाजी को लेकर शुक्रवार को अमेरिका के शीर्ष अधिकारी ने चिंता जताई है। उन्होंने कहा है कि ड्रैगन हिंद महासागर में अपनी नौसैनिकों को बढ़ा रहा है और वहां अपना मिलिट्री बेस बना रहा है।

एशिया प्रशांत क्षेत्र को हैंडल करने वाले अमेरिकी रक्षा सचिव डॉ एली रैटनर ने कहा, “हमारी चिंता न केवल हिंद महासागर में चीन की बढ़ती नौसेनाओं को लेकर है, बल्कि चिंता इस बात की है कि ड्रैगन हिंद महासागर में ऐसा क्यों कर रहा है और उसके इरादे क्या हैं”।

डॉ एली रैटनर ने आगे कहा, ‘चीनी सेना के व्यवहार से हम सभी वाकिफ हैं। इस दौरान उन्होंने अंतरराष्ट्रीय कानून का पालन न करना, पारदर्शिता की कमी, विदेशों में मिलिट्री बेस स्थापित करने के अपने प्रयासों सहित तमाम मुद्दों का जिक्र किया। एनडीटीवी ने हाल ही में एक सैटेलाइट इमेज पब्लिश किया था। इस इमेज में दिखाया गया था कि चीन अफ्रीका के जिबूती में मिलिट्री बेस बना लिया है, जो पूरी तरह से चालू है। ड्रैगन ने इस सैन्य अड्डे पर अपना एक युद्धपोत को भी तैनात किया है।’

हंबनटोटा पोर्ट पर तैनात किया था जासूसी जहाज

हाल ही में बीजिंग ने मिसाइल ट्रैकिंग जहाज युआन वांग 5 को तैनात किया था। इस जासूसी जहाज को श्रीलंका के हंबनटोटा पोर्ट पर विवादास्पद रूप से डॉक किया गया था। दरअसल, चीन ने हंबनटोटा पोर्ट को श्रीलंका से 99 साल की लीज पर लिया है। वह हंबनटोटा पोर्ट को अपना मानता है कि क्योंकि श्रीलंका जिस आर्थिक संकट का सामना कर रहा है, उससे तो साफ जाहिर है वह चीन का कर्ज फिलहाल तो नहीं चुका सकता। वहीं, अमेरिका का कहना है कि वह हिंद महासागर में सुरक्षा स्थिति को लेकर प्रतिबद्ध है। इसको लेकर वह लगातार भारत से संपर्क में है।

भारत और अमेरिका प्रमुख रणनीतिक सहयोगी

भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका प्रमुख रणनीतिक सहयोगी हैं। दोनों देशों के नौसैनिकों के बीच गहरा संबंध है। पिछले साल यूएसएस थियोडोर रूजवेल्ट एयरक्राफ्ट कैरियर स्ट्राइक ग्रुप ने भारतीय नौसेना और भारतीय वायु सेना के साथ पहली बार संयुक्त पनडुब्बी रोधी और वायु युद्ध अभ्यास किया था। हाल ही में दोनों पक्षों के बीच नई दिल्ली में समुद्री वार्ता के संपन्न हुई थी। इस समय विदेश मंत्री एस जयशंकर अमेरिका में हैं। वह यहां अमेरिकी रक्षा सचिव जनरल लॉयड ऑस्टिन (रिटायर) से मुलाकात कर सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

महापंचमी से लेकर विजय दशमी तक मेट्रो में 39.2 लाख यात्री हुए सवार

कोलकाता : दुर्गापूजा पर इस बार यानी कोविड के दो सालों के बाद 39,20,789 यात्रियों ने सफर किया। यह फुटफाल महापंचमी से लेकर विजयदशमी तक आगे पढ़ें »

दुर्गापुर में झूला से गिरकर किशोरी हुई घायल

दुर्गापुर: दुर्गापुर थाना क्षेत्र अंतर्गत भिरंगी मोड़ स्थित नबारुण द्वारा आयोजित दुर्गापूजा मेला में झूला से गिरकर एक किशोरी बुरी तरह जख्मी हो गई।वहीं जख्मी आगे पढ़ें »

ऊपर