पाई पाई को मोहताज हो जाएगा तालिबान

वॉशिंगटन : तालिबान ने भले ही अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया हो, लेकिन सरकार चलाना उसके लिए आसान नहीं होगा। क्योंकि अमेरिका सहित कई देश उसे आर्थिक रूप से कंगाल करना चाहते हैं। इस बीच, अब विश्व बैंक ने भी बड़ी कार्रवाई की है। विश्व बैंक ने अफगानिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक सहायता पर रोक लगा दी है।
यूएस नहीं देगा फूटी कौड़ी
इससे पहले, अमेरिका ने बीते हफ्ते ऐलान किया था कि वो अपने देश में मौजूद अफगानिस्तान के सोने और मुद्राभंडार को तालिबान के कब्जे में नहीं जाने देगा। जानकारी के मुताबिक, अकेले अमेरिका में ही अफगानिस्तान की करीब 706 अरब रुपये की संपत्ति है। ऐसे में यूएस का यह कदम तालिबान के लिए बड़ा झटका है। वहीं अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष यानी आइएमएफ भी अफगानिस्तान की आर्थिक मदद रोक चुका हैं। साथ ही आईएमएफ ने तालिबान के अफगानिस्तान में अपने संसाधनों के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है।
आईएमएफ ने भी ब्लॉक किया एक्सेस
अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने 460 मिलियन अमेरिकी डॉलर यानी 46 करोड़ डॉलर (3416.43 करोड़ रुपये) के आपातकालीन रिजर्व तक अफगानिस्तान की पहुंच को ब्लॉक करने की घोषणा की थी, क्योंकि देश पर तालिबान के नियंत्रण ने अफगानिस्तान के भविष्य के लिए अनिश्चितता पैदा कर दी है। गौरतलब है कि विश्व बैंक के मौजूदा समय में अफगानिस्तान के अंदर दो दर्जन से ज्यादा प्रोजेक्ट्स चल रहे हैं। बैंक की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, साल 2002 से लेकर अब तक विश्व बैंक की तरफ से अफगानिस्तान को 5.3 अरब डॉलर की आर्थिक सहायता दी जा चुकी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पैसों की तंगी से बचने के लिए करें आटे के ये उपाय, होगी मां लक्ष्मी की कृपा

कोलकाता : पैसे-रुपये और तरक्की भला किसे पसंद नहीं होती, लेकिन कुछ ऐसे लोग भी होते हैं जिनके हाथ में पैसे टिकते ही नहीं। पैसे आगे पढ़ें »

ऊपर