एच-1बी वीजा चयन में लॉटरी सिस्टम होगा खत्म

वाशिंगटन : राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले अमेरिकी पेशेवरों को लुभाने के लिए ट्रंप प्रशासन ने एच-1बी वीजा को लेकर अहम कदम उठाया है। उसने वीजा चयन प्रक्रिया में इस्तेमाल होने वाले कंप्यूटराइज्ड लॉटरी सिस्टम को खत्म करने का निर्णय लिया है। इसकी जगह पर वेतन आधारित चयन प्रक्रिया का प्रस्ताव रखा है। यह वीजा विदेशी पेशवरों के लिए जारी किया जाता है, जो भारतीयों में खासा लोकप्रिय है। अमेरिका के गृह सुरक्षा विभाग (डीएचएस) ने प्रस्तावित नई प्रक्रिया के संबंध में अधिसूचना जारी की। यह अधिसूचना राष्ट्रपति चुनाव से महज पांच दिन पहले जारी की गई है। विभाग ने कहा कि लॉटरी सिस्टम की जगह नई प्रक्रिया अपनाए जाने से अमेरिकी पेशेवरों के वेतन में आ रही गिरावट को रोकने में मदद मिलेगी। वेतन आधारित चयन प्रक्रिया से एच-1बी वीजा धारकों और अमेरिकी पेशेवरों के हितों में बेहतर संतुलन स्थापित करने में मदद मिलेगी। इस प्रस्तावित नियम के साथ ट्रंप प्रशासन अमेरिकी कामगारों के हितों की रक्षा करने के अपने वादों को लगातार पूरा कर रहा है। एच-1बी वीजा कार्यक्रम का आमतौर पर अमेरिकी नियोक्ताओं द्वारा दुरुपयोग किया जा रहा है। इस वीजा के जरिये मुख्य रूप से विदेशी पेशेवरों को नौकरी दी जा रही है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

नोएडा में प्लास्टिक से बनाई जाएगी सड़क

- प्रदेश में ऐसा काम करने वाला पहला शहर बना नोएडा नोएडा : दुनियाभर के बड़े से बड़े वैज्ञानिक इस बात को स्वीकारते हैं कि जहर आगे पढ़ें »

महबूबा मुफ्ती और उनकी बेटी इल्तिजा फिर नजरबंद

श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी(पीडीपी) अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और उनकी बेटी इल्तिजा मुफ्ती को शुक्रवार को यहां उनके गुपकार आवास पर आगे पढ़ें »

ऊपर