भारतीय वायुसेना को सौपा गया पहला राफेल लड़ाकू विमान, 8 अक्टूबर को होगा वायुसेना में शामिल

Rafale Fighter plane

नई दिल्ली : फ्रांस की रक्षा कंपनी दसॉल्ट ने गुरुवार को पहला राफेल लड़ाकू विमान भारतीय वायुसेना को सौंप दिया है। वायुसेना के सूत्रों के अनुसार टेल नंबर आरबी-01 के साथ पहला विमान फ्रांस में एयर मार्शल वीआर चौधरी के नेतृत्व में सेना के अधिकारियों को सौंपा गया। गुरुवार को वायुसेना ने फ्रांस में दसॉ एविएशन विनिर्माण सुविधा में पहला राफेल लड़ाकू विमान प्राप्त किया। इस दौरान डेप्युटी चीफ एयर मार्शल वीआर चौधरी ने लगभग 1 घंटे राफेल में उड़ान भी भरी। टेल नंबर आरबी -01 का नाम भारतीय वायु सेना के प्रमुख एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया के नाम पर रखा गया है, जिन्होंने देश के सबसे बड़े रक्षा सौदे को अंतिम रूप देने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। राफेल को आधिकारिक तौर पर 8 अक्टूबर को भारतीय वायुसेना में शामिल किया जाएगा। बता दें कि भारत और फ्रांस के बीच राफेल लड़ाकू विमान को लेकर 60 हजार करोड़ का सौदा हुआ था।

आठ अक्टूबर को वायुसेना में होगा शामिल

बताया जा रहा है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और नये एयरफोर्स चीफ आरकेएस भदोरिया की मौजूदगी में राफेल भारतीय वायुसेना में शामिल किया जाएगा। इसके साथ ही पायलटों और कर्मियों के प्रशिक्षण के बाद राफेल विमान मई 2020 में भारत पहुंचना शुरू हो जाएगा।

भारत और फ्रांस के बीच 36 विमानों का सौदा

बता दें कि भारत ने सितंबर 2016 में फ्रांस से 36 लड़ाकू राफेल विमानों का सौदा किया था। वहीं भारतीय पायलटों को फ्रांसीसी वायु सेना के विमानों के लिए प्रशिक्षित कर दिया गया है। भारतीय वायुसेना मई 2020 तक तीन अलग-अलग बैचों में 24 पायलटों को प्रशिक्षित करेगी, जिससे राफेल को उड़ाया जा सके।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर