भारत कोई ऐसा कदम न उठाये जिससे तनाव बढ़े : चीन

बीजिंग : लद्दाख में जारी सीमा विवाद के बीच चीन ने सीमाई इलाकों में भारत की ओर से मिलिट्री से जुड़ी ढांचागत सुविधाएं बनाने पर ऐतराज जताया। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि भारत ने गैर कानूनी ढंग से लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाया है। चीन इसे मान्यता नहीं देता। वह लद्दाख में चीन से सटी ऊंचाई वाले इलाकों में रोड नेटवर्क तैयार कर रहा है। हम सीमाई इलाकों में मिलिट्री के इस्तेमाल के मकसद से ढांचागत सुविधाएं बनाने का विरोध करते हैं। दोनों देशों के बीच बनी सहमति के मुताबिक, कोई भी ऐसा कदम नहीं उठाया जाना चाहिए, जिससे तनाव बढ़े। इसके साथ ही उन्होंने चीन की ओर से भारत सीमा पर तैयार की जा रही ढांचागत सुविधाओं से जुड़े सवाल पर कहा कि कुछ संस्थानों ने ऐसी रिपोर्ट जारी की हैं, जोकि पूरी तरह झूठी हैं। इन्हें गलत मकसद से जारी किया गया है। चीन भारत के साथ हुए समझौतों का कड़ाई से पालन करता है। हम भारत से सटी सीमा पर शांति और स्थिरता बनाए रखना चाहतें हैं। हालांकि, हम अपनी संप्रभुता और सीमा की रक्षा करने के लिए भी दृढ़ हैं। एलएएसी पर लंबे समय से चीन की गतिविधियां जारी हैं। हमारे सभी काम दोनों देशों के बीच हुए आपसी समझौते के मुताबिक होते हैं। हम उम्मीद करते हैं कि भारत भी ऐसा ही करेगा। भारत को सीमा पर तनाव कम करने के लिए और स्थिति सुधारने के लिए चीन के साथ मिलकर काम करना चाहिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

1000 छक्के उड़ाने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बने गेल

अबु धाबी : राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ शतक से चूक गए अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के कारण दुनियाभर की टी20 लीग में अपना विशिष्ट स्थान रखने आगे पढ़ें »

एसी मिलान, आर्सनल की यूरोपा लीग में जीत, टोटेनहैम हारा

पेरिस : एसी मिलान ने स्पार्टा प्राग को 3-0 से हराकर यूरोपा लीग फुटबॉल टूर्नामेंट में अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज की जबकि टोटेनहैम को आगे पढ़ें »

ऊपर