ट्रंप ने कहा- भारत और चीन सीमा विवाद हल कर लेंगे

trump

वॉशिंगटन : पूर्वी लद्दाख में सीमा विवाद को लेकर भारत-चीन के बीच जारी गतिरोध को खत्म करने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर मदद की पेशकश की। ट्रंप ने कहा कि एशियाई देशों की सीमा संबंधी विवाद पर मेरी नजर है। मुझे उम्मीद है कि भारत और चीन मौजूदा सीमा विवाद हल कर लेंगे। साथ ही उन्होंने एक बार फिर दोनों एशियाई देशों की मुझे पता है कि चीन और भारत मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि वे इससे निपट लेंगे। अगर हम मदद कर सकते हैं, तो जरूर मदद करना चाहेंगे। राष्ट्रपति का यह बयान ऐसे समय में आया है जब कुछ दिन पहले ही भारत और चीन के वरिष्ठ सैन्य कमांडरों ने कई महीनों से लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर जारी गतिरोध को हल करने के लिए वार्ता की थी। इस बीच, समाचार पत्र ‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने अपनी एक खबर में कहा कि सीमा संघर्ष भारत को एक असंयमित प्रतिक्रिया के लिए उकसा रहा है। भारत नये जहाजों के निर्माण और तटीय निगरानी चौकियों का नेटवर्क बनाते हुए अमेरिका और उसके सहयोगियों के साथ संयुक्त नौसैनिक युद्धाभ्यास बढ़ा रहा है, जो नयी दिल्ली को हिंद महासागर के समुद्री यातायात पर नजर रखने में मदद करेगा।

मतदान नियमों में बदलाव को ट्रंप कैंपेन ने कोर्ट में दी चुनौती

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चुनाव अभियान समिति तथा रिपब्ल्किन नेशनल कमेटी ने नॉर्थ कैरोलिना के चुनाव अधिकारियों को ‘मेल-इन-बैलट’ नियमों में हुए बदलावों को लागू करने से रोकने के लिए याचिका दायर की है। याचिका में दावा किया गया है राज्य के चुनाव बोर्ड द्वारा अपनाई गई नयी व्यवस्था से चुनाव के दौरान मतदान न कर पाने वालों को बाद में बिना उचित सत्यापन के मतदान का मौका मिलेगा, जिससे धांधली होने की संभावना है। चुनाव बोर्ड ने मंगलवार को नए दिशा-निर्देश जारी किए थे, जिनके तहत मेल के जरिए मतदान करने वाले मतदाताओं को नवंबर में चुनाव के दौरान मतपत्र भरने के दबाव का सामना करने की जगह कम जानकारी देकर मतदान करने की अनुमति होगी।

ट्रंप के समर्थन में हजारों लोगों ने मार्च निकाला 

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रति अपना समर्थन व्यक्त के लिए हजारों लोग शनिवार को वाशिंगटन शहर में नेशनल मॉल के पास एकत्र हुए। उच्चतम न्यायालय के लिए एमी कोनेय बारेट को न्यायाधीश नामित करने की ट्रंप की घोषणा से कुछ घंटे पहले लिंकन मेमोरियल से यूएस कैपिटल तक यह मार्च निकाला गया। भीड़ में कुछ लोगों ने मास्क पहन रखे थे जबकि कुछ ने ट्रंप के हस्ताक्षर वाली लाल टोपी पहन रखी थी जिन पर लिखा था, ‘‘आओ अमेरिका को फिर से दैवीय बनाएं।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना से प्रभावित हुई भारत में सोने की खरीद, तीसरी तिमाही में मांग 30% गिरी

मुंबई: कोरोना महामारी से जुड़े व्यवधानों तथा ऊंची कीमतों के कारण सितंबर तिमाही में भारत में सोने की मांग साल भर पहले की तुलना में आगे पढ़ें »

आंखों के डार्क सर्कल का आसान घरेलू उपाचार

आंखों के नीचे डार्क सर्कंल एक आम समस्या है। चेहरे की सुंदरता पर ग्रहण से लगते हैं डार्क सर्कल्स। नींद पूरी न होने पर, असंतुलित आगे पढ़ें »

ऊपर