हांगकांग के प्रदर्शनकारियों ने ब्रिटिश वा‌णिज्य दूतावास के बाहर की रैली, अंतरराष्ट्रीय समर्थन पाने की कोशिश

hongkong

हांगकांग : लोकतंत्र के समर्थक अंतरराष्ट्रीय समर्थन हासिल करने के लिए हांगकांग में लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. ताजा घटनाक्रम में प्रदर्शनकारियों ने रविवार को ब्रिटेन के वाणिज्य दूतावास के बाहर रैली की। इस दौरान एकत्रित हुए लोगों ने ब्रिटेन के ध्वज फहराये और ”हांगकांग को बचाओ ब्रिटेन” के नारे भी लगाए। वे बैनर थामे हुए थे जिस पर लिखा था कि ”एक देश, दो व्यवस्थाओं का दौर अब खत्म हो चुका है।”

हांगकांग पहले ब्रिटेन की कॉलोनी हुआ करता था

गौरतलब है कि हांगकांग पहले ब्रिटेन की कॉलोनी हुआ करता था, लेकिन 1997 में ब्रिटेन और चीन के बीच हुए समझौते के बाद से हांगकांग पर चीन का नियंत्रण है। प्रदर्शनकारियों ने उस समझौते का हवाला देते हुए ब्रिटेन से हांगकांग की स्वायत्तता सुनिश्चित करने की अपील की। प्रदर्शनकारियों ने इससे पहले एक सितंबर को भी ब्रिटेन के वाणिज्य दूतावास के बाहर रैली निकाली थी। इसके अलावा उसने पिछले सप्ताहांत अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के बाहर भी रैली निकाली थी।

चीन ने हांगकांग के लिए पेश किया था प्रत्यर्पण विधेयक

दरअसल, चीन ने हांगकांग के लिये एक प्रत्यर्पण विधेयक पेश किया था। यह कानून हांगकांग के मुख्य कार्यकारी और अदालतों को उन देशों के प्रत्यर्पण अनुरोधों को प्रक्रिया में लाने की अनुमति देगा जिनके साथ पूर्व ब्रिटिश उपनिवेश का औपचारिक हस्तांतरण समझौता नहीं है। इसमें चीन, ताइवान और मकाओ शामिल हैं, जिन्हें बिना विधायी पर्यवेक्षण के हस्तांतरण की इजाजत होगी। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि चीन हांगकांग में अपना दखल बढ़ाने के लिये यह विधेयक लाया है। हालांकि हांगकांग सरकार ने इस महीने घोषणा की थी कि वह विधेयक को वापस लेगी, लेकिन प्रदर्शनकारी शहर में प्रत्यक्ष चुनाव कराने और पुलिस की जवाबदेही तय करने की मांग पर अड़े हुए हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

करीमपुर उपचुनाव से होगा बंगाल विधानसभा के विजय का आगाज : विजयवर्गीय

नदियाः नदिया के करीमपुर विधानसभा उपचुनाव से बंगाल विधानसभा पर विजय का आगाज होगा, शनिवार शाम करीमपुर के महिषबथान में गांधी संकल्प यात्रा को केंद्र आगे पढ़ें »

बीजीबी की फायरिंग में बीएसएफ जवान की मौत की घटना दुर्भाग्यजनक : शुभेन्दु अधिकारी

मुर्शिदाबाद : मुर्शिदाबाद के जलंगी में बीजीबी की फायरिंग में बीएसएफ जवान की मौत की घटना दुर्भाग्यजनक। परिवहन मंत्री और तृणमूल के जिला पर्यवेक्षक शुभेन्दु आगे पढ़ें »

ऊपर