चीन में अब आया कोरोना से भी खतरनाक ‘हंता वायरस’

हंता वायरस से संक्रमित लोगों के मरने का आंकड़ा 38 प्रतिशत

पेइचिंग : वैश्विक स्तर पर महामारी बन चुके कोरोना वायरस पर काबू पाया ही नहीं जा सकता है कि कोरोना की जन्मभूमि चीन में अब नये हंता वायरस से सोमवार को एक व्यक्ति की मौत हो गयी। रिपोर्ट के अनुसार नये वायरस से मृत व्यक्ति चीन के यूनान प्रांत में मिला है। पीड़‍ित व्‍यक्ति काम करने के लिए बस से शाडोंग प्रांत लौट रहा था। व्यक्ति को हंता वायरस से सकारात्मक पाया गया था। इस दौरान बस में सफर कर रहे 32 अन्‍य लोगों की भी जांच की गई है। चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्‍लोबल टाइम्‍स द्वारा दी जानकारी के बाद सोशल मीडिया पर बवाल मच गया है।

ट्वीट करके लोगों ने दी प्रतिक्रिया

बाजार में आयी हंता वायरस की खबर से लोगों में और ज्यादा डर का माहौल बन गया है। ट्वीटर पर प्रतिक्रिया देते हुए लोग कर रहे हैं कि कोरोना वायरस भी कही अब हंता वायरस की तरह महामारी का रूप न धारण कर लें। एक ट्वीटर अकाउंट पर प्रतिक्रिया दी गयी थी कि जब तक चीन जीव जन्तु को अपना भोजना बनाना बंद नहीं करता है तब तक इस तरह के महामारी पैदा करने वाले वायरस का जन्म होता रहेगा। चीनी लोग अब एक और महामारी की परियोजना पर काम कर रहे हैं। यह हंता वायरस चूहे खाने से होता है।

क्‍या है हंता वायरस?

अगर विशेषज्ञों की बात मानें तो उनका कहना है कि कोरोना वायरस जैसे हंता वायरस घातक नहीं है। कोरोना की तरह यह हवा के द्वारा नहीं फैलता है। यह व्यक्ति के चूहे या गिलहरी के संपर्क में आने से फैलता है। सेंटर फॉर डिजिज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार, ‘चूहों के घर के अंदर और बाहर करने से हंता वायरस के संक्रमण का खतरा रहता है। यहां तक कि अगर कोई स्‍वस्‍थ व्‍यक्ति भी है और वह हंता वायरस के संपर्क में आता है तो उसके संक्रमित होने का खतरा रहता है।’

कोरोना वायरस से विपरीत दिशा में काम करने वाला यह हंता वायरस व्‍यक्ति से व्‍यक्ति में प्रवेश नहीं करता है बल्कि व्यक्ति चूहों के मल, पेशाब आदि को छूने के बाद अपनी आंख, नाक और मुंह को छूता है तो उसके हंता वायरस से संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है।

यह पहचान है

इस वायरस से संक्रमित होने पर व्य​क्ति को बुखार, सिर दर्द, शरीर में दर्द, पेट में दर्द, उल्‍टी, डायरिया आदि हो जाता है। अगर चिकित्सा में देरी होती है तो संक्रमित इंसान के फेफड़े में पानी भी भर जाता है, उसे सांस लेने में परेशानी होती है।

क्या हंता वायरस जानलेवा है ?

सीडीसी के अनुसार यह नया हंता वायरस जानलेवा है और इससे संक्रमित लोगों के मरने का आंकड़ा 38 प्रतिशत है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शेयर मार्केट को लॉकडाउन अपडेट्स का इंतजार, निफ्टी- सेंसेक्स में 0.5% की गिरावट

नई दिल्ली : बुधवार के कारोबार के दौरान निफ्टी और सेंसेक्स में उतार-चढ़ाव देखा गया और 0.5% की गिरावट के साथ बंद हुआ।  एंजिल ब्रोकिंग आगे पढ़ें »

income tax office

आयकर 5 लाख रुपये तक के सभी लंबित आयकर रिफंड तत्काल जारी करेगा, 14 लाख करदाताओं को होगा फायदा

नई दिल्ली : कोरोना आपदा के मद्देनजर केंद्र सरकार ने आज कुछ बड़े राहत पैकेजो का ऐलान किया है। वित्त मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति आगे पढ़ें »

ऊपर