महाभियोग जांच में डेमोक्रेट को मिली बड़ी जीत,ट्रंप की मुश्‍किलें बढ़ी

Donald trump

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ऊपर राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेट पार्टी के उम्मीदवार बाइडेन और उनके बेटे के खिलाफ भ्रष्टाचार के दावों की जांच करवाने के आरोप है। ट्रंप ने कहा था कि महाभियोग की जांच में सहायता करने के लिए राजी हैं पर उन्होंने इसके लिए सही नियमों की शर्त्त रखी थी। उन्होंने कहा था कि वह डेमोक्रेट्स की अगुवाई में चल रहे महाभियोग की जांच में तभी भाग लेंगे जब उसे निष्पक्षता और नियमसंगत तरीके से किया जाएगा। अमेरिकी अदालत ने न्याय विभाग को रूस माामले में विशेष वकील रॉबर्ट मूलर द्वारा की गई जांच से जुड़ी रहस्यमय जानकारी सदन को देने का निर्देश दिया है। कोर्ट के इस फैसले के बाद ट्रंप की मुश्‍किलें बढ़ती नजर आ रही है। इसे महाभियोग जांच में डेमोक्रेट्स की बड़ी जीत मानी जा रही है क्योंकि वह इसे जांच की प्रक्रिया में इस्तेमाल करने के लिए पाना चाहते थे। अदालत के मुख्य न्यायाधीश बेरिल हॉवेल ने न्याय विभाग को 30 अक्टूबर तक का समय दिया है जिसके तहत उन्हें सारी जानकारियां उपलब्‍ध करानी हैं। जानकारी के मुताबिक विभाग फैसले की दोबारा जांच कर रहा है।

मूलर से मिली जानकारी ट्रंप के खिलाफ उपलब्‍ध करा सकती हैं सबूत

जानकारी के मुताबिक डेमोक्रेट्स के ऐसे सबूत हाथ लगे हैं जिसमें दावा किया गया है कि ट्रंप ने बाइडेन और दूसरे डेमोक्रेट नेताओं के खिलाफ जांच के लिए यूक्रेन से करार करने की कोशिश की थी। मूलर से मिली जानकारी साल 2016 के चुनावों में ट्रंप के खिलाफ नए सबूत उपलब्‍ध करा सकते है। ऐसा माना जा रहा है कि इससे महाभियोग का मुद्दा और ज्यादा मजबूत हो जाएगा। इन जानकारियों वाले दस्तावेजों का एकमात्रा हिस्सा है जो संसदों तक नहीं पहुंचे हैं। व्हाइट हाउस और रिपब्लिकन समर्थकों के तर्क के मुताबिक औपचारिक वोट के बिना महाभियोग गैरकानूनी है और वहीं दूसरी ओर न्याय विभाग के अनुसार महाभियोग “न्यायिक कार्यवाही” के योग्य नहीं है। यहां तक की न्यायाधीश ने न्याय विभाग के इस तर्क को भी खारिज कर दिया।

जो बाइडेन ने कहा- ट्रंप लोकतंत्र के लिए खतरा

अमेरिका के पूर्व उप राष्ट्रपति तथा डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति पद के प्रमुख दावेदार जो बाइडेन ने कहा है कि ट्रंप लोकतंत्र के लिए खतरा है। बाइडेन ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग चलाने की मांग करते हुए कहा है कि ट्रंंप ने अपने पद की गरिमा का उल्लंघन किया है। बाइडेन ने कहा कि अमेरिका ने कभी अपने इतिहास में किसी राष्ट्रपति का ऐसा अकल्पनीय व्यवहार नहीं देखा होगा। ट्रंप ने अपने शब्दाें से और न्याय को रोकने जैसी कई गतिविधियों से खुद को दोषी दिखाया है। उन्होंने कहा कि अमेरिका की जनता यह स्पष्ट तरीके से देख सकती है कि ट्रंप ने राष्ट्र को धोखा दिया है और महाभियोग लायक कर्म किए हैं। संविधान, लोकतंत्र, बुनियादी एकता की रक्षा के लिए उन पर महाभियोग की प्रक्रिया चलाने की अपील की है। ट्रंप ने इसके जवाब में बाइडेन को भ्रष्टाचारी बताया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Rape victim

सोशल मीडिया पर तस्वीरें पोस्ट करने की धमकी देकर करता रहा बलात्कार, हुआ गिरफ्तार

कोलकाता : सोशल मीडिया पर नग्न तस्वीरें पोस्ट करने की धमकी देकर बलात्कार करने का आरोप है। यह आरोप सोदपुर के गौरांगनगर के रहनेवाले युवक आगे पढ़ें »

Kalyani Expressway

कल्याणी एक्सप्रेस वे पर लुटेरों ने बाइकसवार को मारी गोली,हालत गंभीर

भाटपाड़ा : भाटपाड़ा में एक बार फिर छिनताईबाजों ने बिना किसी खौफ के एक गैर सरकारी कर्मी को उसकी मोटरसाइकिल छिनताई का विरोध करने पर आगे पढ़ें »

pdp

पीडीपी सांसद ने गृह मंत्री को लिखा पत्र, राजनीतिक बंदियों को रिहा करने की मांग की

officer

भारतीय मूल के पुलिसकर्मी के सम्मान में ह्यूस्टन पुलिस ने ड्रेस कोड नीति बदली

coal burning roadside

कोलकाता में सड़क किनारे चूल्हा जलाने वालों के खिलाफ शुरू हुई कार्रवाई

Gay couple wants police protection

बारासात के समलैंगिक जोड़े को मिल रही परिवार से धमकी, पुलिस से लगाई सुरक्षा की गुहार

ram barat

अयोध्या से जनकपुर के लिए निकलेगी भव्य राम बारात, शामिल हो सकते हैं प्रधानमंत्री मोदी

anand kumar

‘सुपर 30’ के संस्थापक ने जेएनयू के इन छात्रों के लिए कही ये बात

rao

नर्सरी में लाखों रुपये फीस देने वालों को उच्च शिक्षा में 50 हजार रुपये देने में दिक्कत क्यों : जीवीएल नरसिंह राव

bjp

भाजपा नेताओं को निर्देश- राज्यपाल और ममता सरकार के बीच वाक्युद्ध पर टिप्पणी करने से बचें

ऊपर