चीन की अर्थव्यवस्‍था को लगा झटका, ग्रोथ रेट तीन दशकों में सबसे नीचे

china_economy_down

बीजिंग : चीन और अमेरिका के बीच चल रहे ट्रेड वार के कारण चीन की अर्थव्यवस्था को जबर्दस्त झटका लगा है। इस वजह से उसकी विकास की गति धीमी हो गई है। नैशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स (एनबीएस) की ओर से जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार देश की सकल घरेलू उत्पादन (जीडीपी) पहली तिमाही के 6.4 फीसदी से घटकर अप्रैल-जून की दूसरी तिमाही में 6.2 प्रतिशत पर आ गई है। मालूम हो कि तीन दशकों में पहली बार चीन की ग्रोथ रेट सबसे नीचे पहुंची है। विशेषज्ञों का मानना है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के हालिया फैसलों जैसे कि अमेरिका द्वारा चीन के प्रॉडक्ट पर शुल्क बढ़ाने और कारोबार के मोर्चे पर तनातानी की वजह से चीन की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ा है। ट्रंप ने चीन से आयात होनेवाले 250 अरब डॉलर के सामान पर शुल्क बढ़ा दिया हैं जिसका असर ग्रोथ रेट पर पड़ा है।
देश का निर्यात 1.2 प्रतिशत कम हुआ
बता दें कि चीन के प्रधानमंत्री लि कियांग ने मार्च में देश के आर्थिक वृद्धि का लक्ष्य 6 से 6.5 प्रतिशत के बीच तय किया था और न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, दूसरी तिमाही का अनुमान काफी हद तक सही भी था, पर कियांग ने शुक्रवार को बताया कि देश का निर्यात 1.2 प्रतिशत कम हुआ है। दूसरी तिमाही में चीन का जीडीपी 6.2 प्रतिशत है। बता दें कि चीन में कैलेंडर ईयर ही फाइनेंशियल ईयर होता है जिसकी शुरूआत 1 जनवरी से होती और और 31 दिसंबर को खत्म होती है।
अभी भी चल रहे कई प्रोजेक्ट्स
देश के आर्थिक जानकारों से मिली अनुसार अभी भी चीन में कई प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है। हाई स्पीड रेल लाइन के साथ साथ सुदूर इलाकों में सड़कों ‌का निमार्ण किया जा रहा है पर कुछ बैंकरों के हिसाब से ट्रेड वार के कारण चीन में स्थापित सैकड़ों बहुराष्ट्रीय कंपनियां दूसरे देशों में अपना स्‍थान बनाने की कोशिश में जुटी हुईं हैं। निवेशकों के मुताबिक अच्छा रिटर्न नहीं मिलने के कारण सरकार निवेश प्रभावित हो सकता है जिससे बैंकों के लिए बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

madhav

राम माधव ने अमेरिका को दी नसीहत, कहा- भारत कोई डंपिंग बाजार नहीं

नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महासचिव राम माधव ने सोमवार को अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री कोंडोलिजा राइस के दिए गए बयान आगे पढ़ें »

P Chidambaram

आईएनएक्स मामले में चिदंबरम को मिली जमानत, फिर भी नहीं हो पाएंगे रिहा

नई दिल्ली : आईएनएक्स मीडिया मामले में मंगलवार को पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम को उच्चतम न्यायालय ने जमानत दे दी है। आगे पढ़ें »

ऊपर