नए कानून को लेकर चीन, अमेरिकी नौसेना का हांगकांग दौरा स्थगित करेगा

amerika china

हांगकांग : चीन ने सोमवार को कहा कि उसने अमेरिकी नौसेना के हांगकांग दौरे को स्थगित करने के साथ ही अमेरिका के कई लोकतंत्र समर्थक संगठनों पर भी प्रतिबंध लगाया है। यह कदम अर्ध स्वायत्त क्षेत्र में मानवाधिकार के समर्थन से जुड़े एक कानून पर दस्तखत करने को लेकर उठाया गया है। प्रतिबंध की प्रकृति अब तक स्पष्ट नहीं है लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि यह कदम उस चीनी धमकी के समर्थन में उठाया गया है जिसमें कहा गया था कि अमेरिका को इस फैसले का अंजाम भुगतना होगा। विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि ये कदम ‘अमेरिका के अतार्किक व्यवहार की प्रतिक्रिया में’ हैं।

हांगकांग तथा चीन के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप न करे

चुनयिंग ने कहा कि हांगकांग मानवाधिकार एवं लोकतंत्र अधिनियम चीन के आंतरिक मामलों में गंभीर हस्तक्षेप है। उन्होंने बीजिंग में दैनिक मीडिया ब्रीफिंग में कहा ‘चीन अमेरिका से अपनी गलती सुधारने और हांगकांग तथा चीन के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने वाले किसी भी शब्द को बोलने या कृत्य से बचे।’ इस कानून पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले हफ्ते दस्तखत किये थे। यह चीन और हांगकांग के उन अधिकारियों पर प्रतिबंध की बात करता है जो मानवाधिकार का उल्लंघन करते हैं। इसके साथ ही इसमें वाशिंगटन द्वारा हांगकांग को दिये गए तरजीही कारोबारी सहयोगी के दर्जे की हर साल समीक्षा की भी बात है।

अमेरिका ने हांगकांग में अशांति के दौरान खराब प्रदर्शन किया

चुनयिंग ने कहा कि अमेरिकी युद्धपोतों और विमानों के आधिकारिक दौरे को स्थगित करने के साथ ही चीन ने नेशनल एनडोवमेंट फॉर डेमोक्रेसी, नेशनल डेमोक्रेटिक इंस्टीटूट फॉर इंटरनेशनल अफेयर्स, ह्यूमन राइट वाच, इंटरनेशनल रिपब्लिकन इंस्टीटूट जैसे अन्य संगठनों पर प्रतिबंध भी लगाया है। चुनयिंग ने कहा कि उन्होंने हांगकांग में अशांति के दौरान खराब प्रदर्शन किया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर