नेपाल में चीन के खिलाफ प्रदर्शन, जलाए गए जिनपिंग के पुतले

nepal

नेपाल : नेपाल में चीन के खिलाफ भारी विरोध-प्रदर्शन जारी है और काफी जगहों पर चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का पुतला भी जलाया गया है। हाल ही में नेपाल के सर्वेक्षण विभाग द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने नेपाल की 36 हेक्टेयर भूमि पर अतिक्रमण कर लिया है। चीन के विस्तारवादी नीतियों और उसके बढ़ते दखल से तंग आकर बड़े पैमाने पर लोग सड़क पर उतर विरोध कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने चीन वापस जाओ के नारे लगाते हुए नेपाल में हड़पी 36 हेक्टेयर जमीन को वापस करने की मांग की है। जानकारी के अनुसार, नेपाल के सपतारी, बरदिया और कपिलवस्तु जिलों में लोगों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए जिनपिंग के पुतले जलाए। लोगों के हाथ में चीन विरोधी पोस्टर और बैनर थे और चीन के खिलाफ लोगों ने अपना आक्रोश जाहिर किया।

अन्य जगहों पर भी हड़पी जमीन

सर्वेक्षण विभाग की रिपोर्ट के अनुसार चीन ने नेपाल में हामला जिले में भगदारे नदी के पास 6 हेक्टेयर और करनाली जिले में 4 हेक्टेयर की जमीन हड़प ली है। इसके अलावा चीन ने सानजेन नदी में लगभग 6 हेक्टेयर नेपाली भूमि और रसुवा के जम्भू खोला को भी दक्षिणी तिब्बत के केरुंग में शामिल कर लिया है। चीन ने नेपाल के सिंधुपाल चौक जिले के भोटेकोशी और खारानेखोला क्षेत्रों में 10 हेक्टेयर से अधिक भूमि का अधिग्रहण कर लिया है। संखूवसाबा में नौ हेक्टेयर नेपाली भूमि को अपने कब्जे में करके चीन ने वहां सड़के बनवायी है।

चीन ने किया था नेपाल में निवेश

मालूम हो कि चीन ने कई देशों में भारी निवेश किया है। चीन ने नेपाल में भी अपना प्रभुत्व बढ़ाने के लिए यहां निवेश किया था जिस पर भारत ने चिंता प्रकट की थी। चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग ने 12 अक्टूबर को नेपाल की आधिकारिक यात्रा की थी। बता दें कि दो दशक में पहली बार किसी चीनी राष्ट्रपति ने नेपाल की यात्रा की थी, इस दौरान दोनों पक्षों में कई करार भी हुए थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

rama

9 लोगों ने पत्र लिखकर राम जन्‍भूमि को बताया कब्रिस्तान, मंदिर न बनाने की अपील

अयोध्या/ नई दिल्ली : अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए बनाए गए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को लिखे एक पत्र में मुस्लिमों आगे पढ़ें »

kasab

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर का खुलासा- कसाब को हिंदू दिखाना चाहता था आईएसआई

नई दिल्ली : मुंबई पुलिस के कमिश्नर का पदभार संभाल चुके पूर्व आईपीएस ऑफिसर राकेश मारिया की आत्मकथा रिलीज होने से पहले ही चर्चा का आगे पढ़ें »

ऊपर