इस देश में अनाथों की पूरी पीढ़ी ले रही जन्‍म, कभी ‘मां’ नहीं कह सकेंगे ये मासूम

नई दिल्ली: कोरोना का कहर सबसे पहले बुजुर्गों पर बरपा लेकिन ब्राजील में इस बार कोरोना सबसे अधिक गर्भवती महिलाओं की जान ले रहा है। मदर्स डे पर यह बेहद दर्दभरी हकीकत है कि ब्राजील में 40, 30 और 20 वर्ष की उम्र वाली कई ऐसी महिलाओं की मौत हो गई जो मां बनने वाली थीं। ब्राजील में इसके पीछे की बड़ी वजह है ‘Amazonian variant।’ Amazonian variant मिलने के बाद से ही यहां लगातार गर्भवती महिलाओं की जान जा रही है। कोरोना की इस त्रासदी में कई नवजात अनाथ हो गए हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक इस वर्ष के शुरुआती चार महीनों में ही यहां 500 से भी अधिक गर्भवती महिलाओं की मौत हो चुकी हैं, यह आंकड़ा बीते बर्ष की अपेक्षा काफी अधिक है।

मां के लिए काल बना Amazonian

गर्भवती महिलाओं और नवजात बच्चों पर स्टडी करने वाले एक ग्रुप के मुताबिक पीछले वर्ष के 9 महीनों में इतनी मौतें नहीं हुईं जितनी इन चार महीनों में हुई हैं। ब्राउन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने कहा है कि ब्राजील में पहले से ही गर्भवती महिलाओं की देखभाल की बेहतर व्यवस्था नहीं है। कोरोना काल में नए वेरिएंट Amazonian के मिलने के बाद तो हालात बेकाबू हो गए है। पहले से ध्वस्त स्वास्थ्य सेवाओं का ढांचा इस महामारी ने ओवरलोड कर दिया है, जिसका सबसे ज्यादा असर मां बनने जा रही महिलाओं पर पड़ रहा है।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर बंगाल को नहीं होने देंगे केंद्र शासित केंद्र : ममता

कोलकाता : केंद्र सरकार द्वारा उत्तर बंगाल को केंद्र शासित केंद्र करने की योजना पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जमाकर भड़की है। ममता ने साफ कहा आगे पढ़ें »

मुकुल को बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है तृणमूल

बनाए जा सकते है राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी की बढ़ाएंगे सक्रियता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस में लौट कर आये मुकुल रॉय को पार्टी बड़ी आगे पढ़ें »

ऊपर