आठ महीने पहले दुर्घटनाग्रस्त हुई इंडोनेशियाई हेलीकॉप्टर से 12 सैनिकों के शव बरामद

जयपुरा : इंडोनेशिया में शुक्रवार को खोजी दल ने 12 सैनिकों का शव बरामद किया। उनका हेलीकॉप्टर आठ महीने पहले देश के सुदूर पूर्व प्रांत पापुआ में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस प्रांत में अलगाववादी विद्रोही समूह सक्रिय हैं। दुर्घटना के कारणों की अभी जांच की जा रही है। पापुआ के सैन्य प्रवक्ता डैक्स सियंतुरी ने बताया कि सेना को लगभग 3,800 मीटर (12,500 फीट) की ऊंचाई पर स्थित एक ढलान पर एमआई-17 के मलबे का पता चला। अगले दिन वे उस इलाके में पहुंचे। उन्होंने कहा कि नौ शवों की पहचान उनकी वर्दी से हुई है।

उड़ान भरने के 5 मिनट बाद हेलीकाप्टर का संपर्क टूटा

अभियान का नेतृत्व करने वाले स्थानीय सैन्य कमांडर बिनसर सियानपार ने कहा कि खराब मौसम के कारण शवों को ढूंढने में परेशानी होने लगी इसलिए शनिवार तड़के फिर से तलाश कार्य शुरू होगा। पिछले साल 28 जून को बिंटांग माउंटेन की राजधानी ओक्सिबिल से उड़ान भरने के 5 मिनट बाद हेलीकाप्टर का संपर्क टूट गया। हेलीकॉप्टर जयपुरा की यात्रा कर रहा था।

गांव के निवासियों ने मलबे की सूचना दी

ओक्सोप गांव के निवासियों ने पिछले हफ्ते अधिकारियों को बताया कि उन्होंने ओक्सिबिल से लगभग 12 किलोमीटर (7 मील) दूर इस क्षेत्र में मलबा देखा है। पश्चिम पापुआ और पूर्वी पापुआ प्रांतों के कई पर्वतीय और जंगली क्षेत्रों तक पहुंचने का एकमात्र रास्ता हवाईमार्ग है। इसी क्षेत्र में हाल ही में कई सैन्य हेलीकॉप्टर अलगाववादी विद्रोहियों के हमले के शिकार हुए हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना वायरस की वजह से वैश्विक अर्थव्यवस्था में हो सकती है एक प्रतिशत की कमी : संरा

संयुक्त राष्ट्र : कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से दुनियाभर में फैली महामारी के कारण संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था 2020 में आगे पढ़ें »

कोरोना से राहत के लिए लक्ष्मी मित्तल ने पीएम-केयर्स फंड में 100 करोड़ रुपये देने की घोषणा की

नई दिल्ली : दुनिया के हर कोने में लोगों को कोविड-19 के कारण व्यापक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  भारत जैसे देश, जहां आगे पढ़ें »

ऊपर