नवाज के दामाद की गिरफ्तारी को लेकर सेना-पुलिस आमने-सामने

कराची : पाकिस्तान में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के दामाद कैप्टन सफदर की गिरफ्तारी के मामले को लेकर पाकिस्तानी सेना और सिंध पुलिस आमने-सामने है। सिंध पुलिस ने आरोप लगाया है कि सफदर की गिरफ्तारी के लिए सिंध पुलिस पर पाकिस्तानी सेना ने दबाव बनाया। इतना ही नहीं, जब सिंध पुलिस ने इससे इनकार किया तो उनके मुखिया यानी सिंध पुलिस के आईजीपी मुश्‍ताक महार को अगवा कर लिया गया। अब इस मामले पर पहली बार नवाज शरीफ ने अपनी चुप्पी तोड़ी है। लंदन में भगोड़े का जीवन जी रहे नवाज शरीफ ने अपने दामाद कैप्टन सफदर की गिरफ्तारी पर कहा कि पाकिस्तान को दो समानांतर सरकारें नियंत्रित कर रही हैं। लोगों को पता होना चाहिए कि सिंध पुलिस के आईजीपी को किसने अगवा किया? किसने उनपर एफआईआर दर्ज करने के लिए दबाव बनाया और किसने पुलिस को कैप्टन सफदर को गिरफ्तार करने के लिए कहा। इससे पहले सेना प्रमुख जनरल क़मर जावेद बाजवा ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के दामाद की गिरफ्तारी से जुड़ी परिस्थितियों की जांच का आदेश दिया था। इस मुद्दे को लेकर देश के सबसे बड़े शहर में अर्धसैनिक बल और पुलिस के बीच गतिरोध पैदा हो गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शिवसेना की मांग, मस्जिदों में लाउडस्पीकरों के इस्तेमाल पर रोक लगाए केन्द्र

  मुंबई : शिवसेना ने ध्वनि प्रदूषण रोकने के लिये बुधवार को केन्द्र सरकार से मस्जिदों में लाउडस्पीकरों के इस्तेमाल पर रोक लगाने की मांग की आगे पढ़ें »

माराडोना मामले में पुलिस ने डॉक्टर के दफ्तर की तलाशी ली

ब्यूनस आयर्स : डिएगो माराडोना की मौत की जांच कर रही पुलिस ने फुटबॉल के इस महानायक की तीमारदारी करने वाली मनोचिकित्सक के कार्यालय और आगे पढ़ें »

ऊपर