प्रेग्नेंट युवती ने किया ब्रेकअप तो सिरफिरे आशिक ने 60 बार चाकुओं से गोदकर मारा

नई दिल्ली : जर्मनी में एक सिरफिरे आशिक ने अपनी प्रेग्नेंट गर्लफ्रेंड को 60 बार चाकुओं से गोद दिया। महिला ने इस शख्स के साथ ब्रेकअप कर लिया था जिसे ये व्यक्ति बर्दाश्त नहीं कर पाया था। 23 साल के इस शख्स पर महिला को टॉर्चर करने और उसके साथ हिंसा करने के आरोप भी लगे हैं और उसने अपना जुर्म कबूल लिया है। तुर्की के रहने वाले 23 साल के आलिम के ने स्वीकार किया है कि उसने 22 साल की अपनी गर्लफ्रेंड जुवी-एन को कार पार्किंग में चाकुओं से गोद डाला था और इसके बाद उसने लाश को जुवी के घरवालों के पास मौजूद जगह में दफना दिया था। जर्मनी के हैम शहर में ये खौफनाक घटना सामने आई है। जर्मन मीडिया बाइल्ड के अनुसार 22 साल की महिला चार महीने की प्रेग्नेंट थीं। अपनी गर्लफ्रेंड को मौत के घाट उतारने के बाद इस व्यक्ति ने उसकी लाश को महिला के पेरेंट्स के घर से 100 मीटर की दूरी पर स्थित एक जगह में गाड़ दिया था। इस मामले में जुवी की मां ने स्थानीय मीडिया के साथ बातचीत में कहा- आलिम उसे टॉर्चर करता था, कंट्रोल करने की कोशिश करता था और उसे मारता-पीटता था लेकिन वो फिर भी उसके पास जाती थी। आलिम के अंदर बहुत ईगो था। उसने एक बार गुस्से में आकर जुवी के बाल भी काट दिए थे। जुवी के पेरेंट्स ने कहा कि आलिम ने जुवी को धमकी भी दी थी कि अगर उसने आलिम को छोड़ने की कोशिश की तो वो उसे जान से मार देगा वही आलिम की एक्स गर्लफ्रेंड भी इस मामले में सामने आई हैं और उन्होंने आलिम पर रेप का आरोप लगाया है। आलिम ने अरेस्ट होने के बाद कहा कि उसे इस घटना पर भारी अफसोस है। वो खुद पिता बनना चाहता था लेकिन उसे नहीं पता कि उसने क्यों अपने ऊपर कंट्रोल खो दिया था। आलिम का अब तक ट्रायल नहीं हुआ है क्योंकि इस मामले की अब तक जांच पूरी नहीं हो पाई है। माना जा रहा है कि आलिम को इस मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई जा सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एयर एम्बुलेंस मैप तैयार कर रही सरकार

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः एयर एम्बुलेंस की बातें तो हमने सुनी हैं। हालांकि अब राज्य सरकार एयर एम्बुलेंस मैप तैयार करवा रही है। इसके लिए योजना बनाई आगे पढ़ें »

साम्प्रदायिक तनाव भड़काने वालों के खिलाफ एफआईआर – ममता

भाजपा 99 % फेक वीडियो फैला रही है हार स्वीकर कर लें सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस 213 सीटें जीत कर तीसरी बार सरकार में आयी है। आगे पढ़ें »

ऊपर