अलीबाबा के चेयरमैन जैक मा ने जन्मदिन पर किया ये बड़ा ऐलान

Jack-Ma-Alibaba-chairman

नयी दिल्ली : अलीबाबा ग्रुप के संस्‍थापक और चेयरमैन जैक मा ने अपने 55वें जन्मदिन पर मंगलवार को रिटायरमेंट का ऐलान किया है। जैक ने चीन के निर्यातकों का अमेरिका से संबंध बनाने के लिए ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा की स्‍थापना की थी। उन्होंने इस पद की जिम्मेदारी अपने सह संस्‍थापक डेनियल झांग को देकर दोबारा शिक्षण पेशा में वापस जाने का निर्णय लिया है। हालांकि जैक ने कंपनी छोड़ने ‌का फैसला एक साल पहले ही ले लिया था। पद छोड़ने के बाद भी जैक कंपनी के साथ साझेदारी में सदस्य बने रहेंगे। मालूम हो कि अलीबाबा 36 लोगो का समूह हैं जिन्हें कंपनी के अधिकतर निदेशकों के चयन का अधिकार दिया गया हैं।

गरीब टीचर से बने करोड़पति

जैक की गरीब टीचर से करोड़पति बनने की कहानी काफी प्ररेणादायक है। साल 1980 में वह एक स्कूल टीचर की नौकरी करने लगे और तीन वर्षो के बाद उन्होंने नौकरी छोड़कर कंपनी खोलने को फैसला किया। जैक ने जब अपने अपार्टमेंट में कंपनी का काम शुरु किया था ताे लोग उन्हें ठग समझते थे। जैक ने अमेरिका में इंटरनेट उपयोग देखकर ही अलीबाबा कंपनी की नींव ड़ाली थी। गौरतलब है कि जब उन्होंने कंपनी की स्‍थापना की थी तब चीन में बहुत कम लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते थे। जैसे ही इंटरनेट की मांग बढ़ने लगी वैसे ही कंपनी ने अच्छा कारोबार करते हुए रिटेलिंग और सेवा क्षेत्र में बढ़ोत्तरी की। लोगो की जरुरतों को समझते हुए जैक ने ऑनलाइन पैसा भुगतान प्रणाली बनाया।

काफी बार नाकाम हुए

जैक ने अपने जीवन में काफी संघर्ष किया है और लगभग 30 नौकरी पाने में असफल रहे। उन्होंने केएफसी में भी नौकरी पाने की कोशिश की पर उन्हें असफलता हाथ लगी। उन्होंने हार न मानते हुए कंपनी पर लगातार मेहनत करते रहे और आज वह ई कार्मस मार्केट में सबसे आगे है।

गौरतलब है कि जैक ने अलीबाबा कंपनी के लिए अपने 17 दोस्तो को तैयार किया था और 21 फरवरी 1999 को इसकी शुरुआत की थी। शुरु में उन्हें काफी दिक्कतों को झेलना पड़ा पर आज अलीबाबा का कारोबार काफी अच्छा चल रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

डायटिंग के बावजूद भी नहीं घट रहा वजन, तो अपनाये ये उपाय कम होगा वजन

कोलकाता : जीरा औषधीय गुणों से भरपूर होता है और सेहत के लिए कई मायनों में फायदेमंद है। वजन घटाने में यह बहुत कारगर है। आगे पढ़ें »

इन 7 वजहों से करनी चाहिए गणपति की पूजा

कोलकाता : बुधवार को पूरे विधि विधान के साथ भगवान गणेश की पूजा की जाती है l भगवान गणेश भक्तों पर प्रसन्न होकर उनके दुखों आगे पढ़ें »

ऊपर