5.62 लाख भारतीयों का डाटा चोरी होने की आशंका, सुरक्षा मानकों को मजबूत करेगा फेसबुक

वाशिंगटन : फेसबुक  ने स्वीकार किया कि उसने करीब 5.62 लाख भारतीयों का डाटा कैंब्रिज एनालिटिका के साथ शेयर किया हैं। सोशल मीडिया की इस दिग्गज अमेरिकी कंपनी ने कहा कि उसने कुल आठ करोड़ 70 लाख लोगों का डाटा कैंब्रिज एनालिटिका के साथ साझा किया। इधर भारत सरकार का कहना है कि वह फेसबुक पर कोई कार्रवाई करने से पूर्व कैंब्रिज एनालिटिका के जवाब का भी इंतजार करेगी। फेसबुक ने माना कि उसने अपने यूजर्स का डाटा ब्रिटिश कंपनी के साथ शेयर किया जिसमें करीब 7 करोड़ 80 लाख यूजर्स अमेरिका के हैं। यानी कुल जितने लोगों का डाटा साझा हुआ है उसमें 81 फीसद अमेरिका के हैं। साथ ही फेसबुक ने यह भी माना कि इनमें 5.62 लाख भारतीय भी हो सकते हैं। फेसबुक ने कहा है कि केवल 335 भारतीय सीधे प्रभावित हुए हैं क्योंकि उन्होंने एप को डाउनलोड किया। जबकि भारत में फेसबुक के करीब 20 करोड़ यूजर्स हैं। डाटा शेयर पर भारी आलोचना झेल चुकी फेसबुक भारत में होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनावों के मद्देनजर कमर कसते हुए अब अपने यूजर्स का डाटा सुरक्षित रखने की कवायद में जुट गई है। इसके लिए कंपनी ने अपने हजारों कर्मचारियों को लगा दिया है। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि उनका पूरा ध्यान भारत सहित अमेरिका और पाकिस्तान में होने वाले चुनावों के दौरान अपने यूजर्स के डाटा की सुरक्षा पर है। जुकरबर्ग ने कहा कि साल 2018 चुनावों के लिहाज से बड़ा साल है। इसको ध्यान में रखते हुए फेसबुक अपने सुरक्षा मानकों को मजबूत कर रही है ताकि गलत सूचना फैलाकर किसी की छवि खराब न की जा सके। जुकरबर्ग ने बताया कि इस समय कंपनी के 15,000 कर्मचारी यूजर्स का डाटा सुरक्षित रखने के लिए काम कर रहे हैं। इस साल अमेरिका में मध्यावधि चुनाव होने हैं। इसके अलावा भारत, ब्राजील, मेक्सिको, पाकिस्तान और हंगरी में भी चुनाव होने हैं। भारत में इस साल कर्नाटक, मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव, जबकि अगले साल लोकसभा चुनाव होने हैं। जुकरबर्ग ने कहा कि कंपनी का पूरा ध्यान दुनिया भर में होने वाले चुनावों की शुचिता बनाए रखने पर है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ओडिशा में विवाहित महिला से सामूहिक बलात्कार,महिला अधिकारी को सौंपा केस

संबलपुर : देश में बलात्कार की घटनाएं थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं। हैदराबाद,उन्नाव और मालदह की घटना के बाद अब ओडिशा के आगे पढ़ें »

सऊदी के रेस्तरां में एक साथ प्रवेश कर सकेंगे पुरुष और महिला

रियाद : सऊदी अरब की सरकार लगातार रूढ़िवादी विचारधारा को छोड़कर खुली सोच को अपना रही है। इस दिशा में काम करते हुए सऊदी की आगे पढ़ें »

ऊपर