30 साल बाद आया मलेरिया का टीका,अफ्रीका में हुआ लॉन्च

मलावाः विश्व स्वास्‍थ्य संगठन की करीब 30 वर्षों की कड़ी मेहनत सफल हुई। संगठन ने मंगलवार को अफ्रीका के मलावा क्षेत्र में दुनिया का पहला मलेरिया का टीका लॉन्च किया। इसे तैयार करने में करीब 30 साल का समय लगा। वैज्ञानिकों का दावा है कि इसे लगाने के बाद बच्चों में मलेरिया नियंत्रण में सफलता मिलेगी। यह टीका 5 महीने से लेकर 2 साल तक के बच्चों के लिए है।

मलावी पहला देश, जहां ये टीका उपलब्ध

इसके लॉच की जानकारी संगठन ने ट‍्वीट के जरिए दी। संगठन के मुताबिक, यह टीका बच्चों को मलेरिया से बचाने के लिए शुरू किए गए पायलट प्रोग्राम का हिस्सा है। तीन अफ्रीकी देशों में मलावी पहला देश है, जहां ये टीका उपलब्ध कराई गई है। जल्द ही घाना और केन्या में भी मलेरिया का टीका लगाने की शुरुआत की जाएगी। इस टीके का नाम आरटीएस-एस दिया गया है।

टीका मलेरिया के मामलों में कमी लाएगी

क्लीनिकल ट्रायल के दौरान पाया गया कि टीका मलेरिया के मामलों में काफी हद तक कमी ला सकती है। शोध में मलेरिया के 10 मामलों में से 4 में बचाव संभव हो पाया। इन 4 में से 3 मामले बेहद गंभीर थे। दुनियाभर में बीमारियों से होने वाली मौत की संख्या बढ़ने का एक कारण मलेरिया भी है। दुनियाभर में हर साल 4 लाख 35 हजार लोगों की मौत सिर्फ मलेरिया से होती है।

पिछले 15 सालों में हुए है कई प्रयास

विश्व स्वास्थ्य संगठन के डायरेक्टर-जनरल डॉ. टेड्रोस अधानोम घेब्रेयेसस का कहना है कि पिछले 15 सालों में मलेरिया को रोकने के लिए कई प्रयास किए गए। मच्छरदानी और दूसरे उपायों के बाद भी इस पर काबू नहीं पाया जा सका है। ऐसे में समाधान के तौर पर टीका ही बेहतर विकल्प है। इसकी मदद से हजारों बच्चों को बचाया जा सकता है।

अफ्रीका में मलेरिया के सबसे ज्यादा मामले

मलेरिया के कारण सबसे ज्यादा मौतें अफ्रीका में होती हैं। यही कारण है कि वर्ल्ड मलेरिया डे (25 अप्रैल) के एक दिन पहले इसकी शुरुआत अफ्रीका से ही की गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, अफ्रीका में इस बीमारी के कारण हर साल 2 लाख 50 हजार बच्चों की मौत होती है। इसके सबसे ज्यादा मामले बच्चों में देखे जाते हैं।


शेयर करें

मुख्य समाचार

सरकार जल्द शुरू करेगी भारतक्राफ्ट पोर्टल, 2-3 साल में 10 लाख करोड़ रुपये कारोबार का लक्ष्य रखा

नई दिल्ली : मोदी सरकार जल्द ही अलीबाबा और अमेजन की तरह ही ई-कॉमर्स मार्केटिंग प्लेटफार्म 'भारतक्राफ्ट' पोर्टल पेश करेगी। इस प्लेटफार्म से 2-3 साल आगे पढ़ें »

अच्छे संबंधों के लिए रिश्ते में बोरियत भी जरूरी है : एक्सपर्ट

नई दिल्ली : लोगों को अक्सर लगता है कि लंबे समय तक अफेयर और शादी के बाद कुछ चीजें मिसिंग है, जो शुरू में कपल्स आगे पढ़ें »

ऊपर