17 साल की अमीर लड़की ड्राइवर के गियर बदलने के अंदाज पर हुई फिदा, फटाफट कर ली शादी

नई दिल्लीः  आज हम आपसे हैरान कर देने वाली एक लव स्टोरी के बारे बतायेंगे जिसके बारे पढ़कर आप भी कहेंगे अरे यार प्यार जब परवान चड़ता है तो सर पर चढ़ कर बोलता है। दरअसल, हम बात कर रहे हैं पाकिस्तान कि जहां एक 17 साल की लड़की अपने ड्राइवर को दिल दे बैठीं। लड़की ना लड़के के चेहरे पर मरी और ना ही उसके दिल पर फिदा हुई। उसको तो बस ड्राइवर के गियर बदलने के अंदाज इतना पसंद आ गया कि वो अपना दिल हार गईं। फिर क्या एक अमीर मालकिन ड्राइवर की दुल्हन बन गई।

अपने ड्राइवर को दिल दे बैठीं लड़की

दरअसल, पाकिस्तानी लड़की अपने ड्राइवर को ही दिल दे बैठी। इस प्रेम कहानी की वजह ना शख्स का खूबसूरत चेहरा था, ना लुभाने वाली पर्सनैलिटी यहां तक कि उसके पास तो जमीन-जायदाद भी नहीं थी। बस थी तो एक वजह गाड़ी चलाने के दौरान ड्राइवर का गियर बदलने का स्टाइल। इस जोड़े ने हाल ही में शादी रचाई है। लड़की ने बताया कि उसका पति, जो कभी उसका ड्राइवर हुआ करता था, उसे ड्राइविंग सिखाता था। तभी उसे कार चलाने के अंदाज से उसे उससे प्यार हो गया।

अंदाज ऐसा कि हाथ पकड़ने का करता था मन

लड़की काफी अमीर परिवार से वास्ता रखती है और अपने पिता की इकलौती संतान थी। बस फिर क्या अपनी बेटी की जिद के आगे परिवार हार मान गया और ड्राइवर को अपना दामाद बना लिया। लड़की के पिता ने शादी में लड़के को गिफ्ट में दो कार दी है, जिसमें से एक कार तो वो ही है, जिसका वो ड्राइवर था। लड़की ने बताया कि उनके पति जो पहले ड्राइवर थे, उसे कार सिखाने के लिए लेकर जाते थे। गाड़ी सीखने के दौरान उनका गियर बदलने का अंदाज इतना पसंद आया कि उसका मन जब वो गियर बदलते तो बार-बार हाथ पकड़ने का करता था।

खुद के ब्‍लॉग बनाते हैं कपल

शादी के बाद अब यह कपल काफी खुश है। लड़का अब खुद का बिजनेस कर रहा है। दोनों लोगों की मानें तो उनकी किस्मत में एक दूसरे से मिलना लिखा था। वहीं खुद के अमीर होने और लड़के गरीब होने के सवाल पर लड़की ने कहा कि प्यार खुदा की देन हैं और रुपया पैसा भी उसी की देन हैं। उसकी चाहत से इंसान कुछ भी हो सकता है। कपल काफी खुश हैं और खुद के ब्‍लॉग भी बनाते हैं।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

बारासात में मेडिकल कॉलेज का सपना हुआ पूरा : काकोली

सांसद ने किया अस्पताल का परिदर्शन बारासात : बारासात मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल का परिदर्शन करने के लिए शनिवार को बारासात की सांसद डॉ. काकोली घोष आगे पढ़ें »

isro mission

कृष्णानगर के नवारुण को मिला इसरो से बुलावा

कृष्णानगर : कहते हैं कि जहां चाह है वहां राह है, इस कहावत को चरितार्थ कर दिखाया है कि नदिया के कृष्णानगर के चांदसड़क इलाके आगे पढ़ें »

ऊपर