हाफिज पर ‘कार्रवाई’ से पाकिस्तान में राजनीतिक संकट की आशंका

इस्लामाबाद : पूरी दुनिया जहां इस इंताजार में है कि पाकिस्तान आतंकी हाफिज सईद पर जल्द कड़ी कार्रवाई करेगा। तो वहीं पाकिस्तान ने ऐसा करने से पहले ही अपने पैर पीछे खींच लिए। पाक मीडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने हाफिजके जमात-उद दावा और फलेह-ए-इंसानियत जैसे संगठनों पर कड़ी कार्रवाई का फैसला टाल दिया है। इसके पीछे वजह बताई जा रही है कि ऐसा करने से पाकिस्तान में राजनीतिक संकट पैदा हो सकता है। बता दें कि हाल में अमेरिका की ओर से पाकिस्तान को दी जाने वाली 7 हजार करोड़ की सैन्य मदद रोक दी गई है। आतंकवाद पर अंतरराष्ट्रीय दबाव झेल रहे पाक पर हाफिज पर कड़ी कार्रवाई करने का दबाव है। उल्लेखनीय है कि हाफिज 26/11 मुंबई आतंकी हमले का मुख्य साजिशकर्ता है। गौरतलब है किपाकिस्तानके इस दोगले रवैये के खिलाफ भारत कई बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आवाज उठा चुका है। इससे पहले भारत ने पाकिस्तान पर यूएनसे जानकारियां साझा की थीं। स्पेन में पिछले साल भारत ने जानकारी दी थी कि पाकिस्तान में हाफिज से जुड़े संगठन संदिग्ध रैलियां, बैठक और फंड इकट्ठा करने जैसी गतिविधियों को आसानी से अंजाम देते हैं। भारत लंबे समय से मांग कर रहा है कि पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित किया जाना चाहिए। इतना ही नहीं भारत इनकी संपत्तियों को जब्त करने की लगातार मांग करता रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Gotabaya Rajpaksa

गोटबाया राजपक्षे होंगे श्रीलंका के राष्ट्रपति, सजित प्रेमदासा ने हार स्वीकार की

कोलंबो : श्रीलंका के राष्ट्रपति चुनाव में 'श्रीलंका पोडुजाना पेरामुना पार्टी' (एसएलपीपी) के उम्मीदवार और पूर्व रक्षा सचिव गोटबाया राजपक्षे ने जीत दर्ज की। गोटबाया आगे पढ़ें »

rajnath

राजनाथ सिंह ने अमेरिका के रक्षा मंत्री के साथ की वार्ता, हिंद-प्रशांत पर किया ध्यान केंद्रित

नयी दिल्ली : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ‌रविवार को बैंकॉक में अमेरिका के रक्षा मंत्री मार्क टी एस्पर से मिले। इस दौरान उन्होंने हिंद-प्रशांत क्षेत्र आगे पढ़ें »

ऊपर