संघर्ष बढ़ाने वाले कारक गलत सूचना फैलाकर अनिश्चितता भरे हालात का फायदा उठा रहे हैं: भारत

संयुक्त राष्ट्र : संयुक्त राष्ट्र में भारत ने कहा कि संघर्ष बढ़ाने वाले कुछ कारक गलत सूचना फैला कर और अवसरवादी आतंकवादी हमले प्रयोजित करके अपने मंसूबों को पूरा करने के लिए अनिश्चितता भरे मौजूदा हालात का फायदा उठा रहे हैं। भारत ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी ने शांति स्थापित करने में योगदान देने वाले कदमों पर प्रतिकूल असर डाला है और संघर्षों को और बढ़ा दिया है। उसने बुधवार को ‘वैश्विक महामारी एवं स्थायी शांति के सामने चुनौतियां’ विषय पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की उच्च स्तरीय खुली बहस में एक बयान में कहा, ‘हम कोविड-19 वैश्विक महामारी से जूझ रहे हैं। इसके कारण विश्व में जिस व्यापक स्तर पर बाधा उत्पन्न हुई है, वह इस पीढ़ी ने पहले कभी नहीं देखी।’ भारत ने कहा कि इस वैश्विक महामारी ने शांति स्थापना में योगदान देने वाले लगभग सभी कदमों पर प्रतिकूल असर डाला है और संघर्ष संबंधी हालात को और जटिल बना दिया है। उसने कहा, ‘संघर्ष संबंधी हालात इस हद तक बिगड़ गए हैं कि हमें शांति कायम रखने संबंधी अहम मामलों पर ध्यान देने के बजाए संघर्षों और बढ़ते मानवीय संकट से निपटने पर अधिक ध्यान देना पड़ रहा है।’ भारत ने बयान में कहा, ‘यही चुनौती है कि हम विभिन्न जरूरतों के बीच प्राथमिकता कैसे तय करें।’ उसने कहा, ‘संघर्ष बढ़ाने वाले कुछ कारक असहमति एवं हिंसा बढ़ाने के लिए गलत जानकारी फैला रहे हैं और यहां तक कि अवसरवादी आतंकवादी हमलों को प्रायोजित कर रहे हैं। वे ऐसे कई तरीकों के जरिए अपने मंसूबों को पूरा करने के लिए अनिश्चितता भरे मौजूदा हालात का फायदा उठा रहे हैं।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

सुशांत ने 9 जून को बहन मीतू को कॉल कर कहा – ‘ये लोग मुझे मार देंगे’

मुंबई: बॉलिवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के 14 जून को मुंबई में बांद्रा स्थित घर पर मृत अवस्था में पाए जाने के बाद सीबीआई, ईडी आगे पढ़ें »

बेदम रही टैक्सी हड़ताल, पर संगठन ने आस नहीं छोड़ी

कोलकाता : एटक समर्थित वेस्ट बंगाल टैक्सी ऑपरेटर कोआर्डिनेशन कमेटी ने अपनी मांगों को लेकर सोमवार को टैक्सी हड़ताल का  आह्वान किया था। हालांकि हड़ताल आगे पढ़ें »

ऊपर