श्रीलंका के प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे के साथ काम करना चाहता है अमेरिका

वाशिंगटन : श्रीलंका में रानिल विक्रमसिंघे को फिर से प्रधानमंत्री बनाये जाने की सराहना करते हुए अमेरिका ने उनके साथ काम करने की इच्छा प्रकट की है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रॉबर्ट पलाडिनो ने कहा है कि, ‘हम खुश हैं कि श्रीलंका के नेतृत्व ने पिछले कई हफ्तों से चल रहे राजनीतिक संकट को संवैधानिक नियमों एवं विधि के शासन के अनुरूप सुलझा लिया है।’ उन्होंने कहा, ‘हिंद-प्रशांत में श्रीलंका एक महत्वपूर्ण साझेदार है और हम साझे हितों के द्विपक्षीय एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर सहयोग बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे और उनके मंत्रिमंडल के साथ काम करने को इच्छुक हैं।’

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेना ने अक्टूबर में विक्रमसिंघे को पद से हटा कर उनके स्थान पर महिंद्रा राजपक्षे को नियुक्त कर दिया था, जिसके बाद श्रीलंका के भीतर और बाहर भी हो-हल्ला मच गया था। गौरतलब है कि राजपक्षे पर दशकों पुराने तमिल टाइगर चरमपंथ के हिंसक खात्मे का आरोप है लेकिन वह इसकी जवाबदेही के लिए अंतरराष्ट्रीय आह्वानों को सिरे से नकार चुके हैं।



शेयर करें

मुख्य समाचार

सन्मय बंद्योपाध्याय ने जेल से रिहा होते ही बताया जान को खतरा

कहा राज्य में चल रहा जंगल राज संवाददाताओं से बातचीत के दौरान फूट-फूटकर रोने लगे सन्मार्ग संवाददाता पुरुलिया : सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट किये जाने के कथित आगे पढ़ें »

दीपावली पर ड्रोन से नजर रखेगा पीसीबी ऊंची इमारतों पर

प्रतिबंधित पटाखे जलाने पर आवासन के अध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई वसूला जाएगा 5 हजार से लाख रुपए तक का जुर्माना दोषी पाए जाने पर होगी 5 साल आगे पढ़ें »

ऊपर