शी का ट्रंप पर हमला: देश खुद को अलग-थलग नहीं कर सकते

बीजिंग: चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपने अमेरिकी समकक्ष डोनाल्ड ट्रंप पर परोक्ष रूप से हमला बोलते हुए बुधवार को कहा कि मौजूदा समय में किसी एक ‘सभ्यता की सर्वश्रेष्ठता’ में विश्वास करना मूर्खतापूर्ण है और कोई भी देश अलग-थलग नहीं रह सकता और न ही अपने दरवाजे पूरी दुनिया के लिए बंद कर सकता है। चीन के राष्ट्रपति का यह बयान ट्रंप द्वारा चीनी उत्पादों पर बढ़ाए गए सीमा शुल्कों के बाद आया है।
अमेरिका ने चीनी उत्पादों पर बढ़ाया है शुल्क
जिनपिंग ने ‘डायलॉग ऑफ एशियन सिविलाइजेशन’ विषय पर आयोजित सम्मेलन के शुरुआती सत्र में यह टिप्पणी की। पिछले सप्ताह ट्रंप ने चीनी उत्पादों पर आयात शुल्क बढ़ा दिया था। हालांकि इसके जवाब में चीन ने भी अमेरिकी उत्पादों पर आयात शुल्क बढ़ा दिया था। शी ने कहा कि अगर देश खुद को अलग-थलग करते हैं और दुनिया के लिए अपने दरवाजे बंद करते हैं तो सभ्यता अपनी जीवंतता खो बैठेगी।
वैश्वीकरण को बचाने की अपील
शी ने एशियाई देशों से वैश्वीकरण को बचाने की अपील की क्योंकि ऐसा माना जा रहा है कि वैश्वीकरण ‘‘अमेरिका फर्स्ट’’ की ट्रंप की नीतियों की वजह से खतरे में है। इस कार्यक्रम में भारतीय दूतावास प्रभारी एक्विनो विमल, श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाल सिरिसेना, आर्मेनिया के प्रधानमंत्री निकोल पाशनियान और यूनान के राष्ट्रपति प्रोकोपीस पावलोपोलस मौजूद थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सोनम वांगचुक के चीनी उत्पादों के बहिष्कार अभियान को व्यापारियों का मिला समर्थन

नई दिल्ली : कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कहा है कि देश के सात करोड़ व्यापारी लद्दाख के शैक्षिक सुधारक सोनम वांगचुक के आगे पढ़ें »

पूर्व पाक कप्तान हनीफ का दावा, 1983 में हॉकी टीम के सदस्‍य तस्‍करी में लिप्‍त थे 

कराची : पाकिस्तान के पूर्व हॉकी कप्तान हनीफ खान ने आरोप लगाया कि 1983 में हांगकांग से वापस आते समय उनकी टीम के कुछ खिलाड़ियों आगे पढ़ें »

ऊपर