जहाजों में लगी आग, 8 भारतीय नागरिकों की मौत

नयी दिल्ली : जलडमरू मध्य में दो जहाजों में उस वक्त आग लग गई जब दोनों जहाज एक-दूूसरे से ईंधन स्‍थानांतरित कर रहे थे। आग लगने से 11 लोगों की मौत होने की पुष्टि की गई है। मीडिया में मंगलवार को आई खबरों के मुताबिक इन पोतों के चालक दल के सदस्यों में भारत, तुर्की एवं लीबिया के नागरिक थे। यह आग रूसी सीमा के जलक्षेत्र के पास सोमवार को लगी थी। दोनों जहाजो पर तंजानिया के ध्वज लहरा रहे थे। इनमें से एक तरलीकृत प्राकृतिक गैस लेकर जा रहा था जबकि दूसरा टैंकर था। रूसी संवाद समिति तास ने समुद्री अधिकारियों के हवाले से बताया कि इनमें से एक जहाज कैंडी में चालक दल के 17 सदस्य मौजूद थे जिनमें नौ तुर्की नागरिक एवं आठ भारतीय नागरिक थे। दूसरे जहाज माइस्ट्रो में सात तुर्की नागरिकों, आठ भारतीय नागरिकों एवं लीबिया के एक इंटर्न समेत चालक दल के 15 सदस्य सवार थे।

12 लोगों को समुद्र से निकाला जा चुका है
रूसी समुद्री एजेंसी के एक प्रवक्ता ने बताया कि माना जा रहा है कि एक जहाज में विस्फोट हुआ‌। फिर यह आग दूसरे जहाज तक फैल गई। बचाव नौका पहुंचाई जा रही है। प्रवक्ता ने बताया कि करीब तीन दर्जन नाविक नाव से कूद करबच निकल पाने में कामयाब हुए। अब तक 12 लोगों को समुद्र से निकाला जा चुका है। नौ नाविक अब भी लापता हैं। बताया गया कि मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियों की वजह से बचाव नौकाएं पीड़ितों को चिकित्सीय इलाज के लिए तट तक नहीं ले जा पा रही हैं। केर्च जलडमरूमध्य एक महत्त्वपूर्ण जलमार्ग है जो रूस और यूक्रेन दोनों के लिए ही सामरिक दृष्टि से महत्त्व रखता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

piolet

हवाईअड्डे पर पकड़ा गया फर्जी पायलट, इतनी बार कर चुका है यात्रा

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने इंदिरा गांधी अतंरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से एक फर्जी पायलट को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के पास से आगे पढ़ें »

शुल्क वृद्धि के मुद्दे पर जेएनयू में हुई बैठक, बढ़ाई गई फीस पूरी तरह वापस लेने की मांग

नयी दिल्ली : जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्रसंघ (जेएनयूएसयू) के पदाधिकारियों और मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा गठित उच्चाधिकार प्राप्त समिति के बीच बुधवार को आगे पढ़ें »

ऊपर