प्रिंस फिलिप ने सरेंडर किया अपना ड्राइविंग लाइसेंस, कार एक्सीडेंट के बाद से लिया निर्णय

लंदन : ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के 97 वर्षीय पति प्रिंस फिलिप ने शनिवार को अपना ड्राइविंग लाइसेंस स्वेच्छा से सरेंडर करने का निर्णय लिया है। ‌प्रिंस फिलिप ने एक कार दुर्घटना के बाद ऐसा निर्णय लिया। फिलिप कार दुर्घटना से बहुत आहत थे। फिलिप को औपचारिक रूप से ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग के रूप में जाना जाता है। इस संबंध में बकिंघम पैलेस ने एक संक्षिप्त बयान में कहा कि सावधानी से विचार करने के बाद ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग ने अपने ड्राइविंग लाइसेंस को स्वेच्छा से सरेंडर करने का निर्णय लिया है।
प्रिंस फिलिप पत्र के माध्यम से पीड़ित को जताया खेद
यह घटना नॉरफॉक के सैंड्रिंघम रियासत के नजदीक में 17 जनवरी को घटी। हादसे के दौरान, ड्यूक का वाहन जिस वाहन से टकराया उसमें 28 और 45 वर्ष की दो महिला और नौ साल का एक नवजात शिशु था। पुलिस ने कहा कि नवजात बाल-बाल बच गया लेकिन 28 साल की महिला के घुटने में कट लग गए और 45 साल की महिला की कलाई टूट गई। हालांकि घटना के बाद एक पत्र में प्रिंस ने माफी मांगी। बताया जा रहा है कि सूर्य की तेज रोशनी से आंखें चौंधियान से उनका संतुलन बिगड़ा जिस कारण यह हादसा हुआ। पत्र में कहा- मैं आपको बता नहीं सकता कि दुर्घटना से मुझे कितना खेद है। जबकि मैं उस सड़क को बहुत बार पार कर चुका हूं और मुझे बहुत अच्छी तरह से पता है कि मुख्य सड़क का कितना ज्यादा यातायात रहता है। पुलिस के एक बयान में कहा गया है कि नॉरफॉक पुलिस इस बात की पुष्टि कर सकती है कि सैंड्रिंघम में टक्कर में शामिल लैंड रोवर के 97 वर्षीय ड्राइवर ने स्वेच्छा से अपने लाइसेंस को सरेंडर कर दिया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में तीसरे दिन भी कोरोना के 800 से ज्यादा मामले, 25 की हुई मौत

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 850 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

कोरोना की वजह से 9वीं-12वीं के पाठ्यक्रम 30 फीसदी घटे

नयी दिल्ली : कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच स्कूलों के ना खुल पाने के कारण शिक्षा व्यवस्था पर असर और कक्षाओं के समय में आगे पढ़ें »

ऊपर