वर्जीनिया के सरकारी कार्यालय में चली अंधाधुंध गोलियां,12 की मौत, 6 जख्मी

वॉशिंगटनः अमेरिका के वर्जीनिया बीच शहर में एक बंदूकधारी ने सरकारी कार्यालय में घुसकर अंधाधुंध फायरिंग की। इस घटना में 12 लोगों की मौत हो गई, जबकि 6 जख्मी हैं। इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें हमलावर मारा गया। हमलावर के बारे में बताया जा रहा है कि वह शहर के एक सरकारी दफ्तर में नौकरी करता था। वर्जीनिया पुलिस के मुख्य ‌अधिकारी जेम्स सर्वेरा ने कहा कि हमलावर शाम करीब 5 बजे नगरपालिका दफ्तर में घुसा और अचानक उसने कर्मचारियों पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं। फिलहाल, घटना के पीछे की वजह का पता नहीं चला है।

जान बचाने के लिए मेज के नीचे ‌‌छिपे कर्मचारी

इस घटना के प्रत्यक्षदर्शी कर्मचारी मेगन ने बताया कि जैसे ही दफ्तर में फायरिंग शुरू हुई। मैं 20 साथियों के साथ मेज के नीचे छिप गई। हमने तुरंत इमरजेंसी नंबर पर कॉल किया, पुलिस के आने तक कई बार गोलियां चलने की आवाज सुनाई देती रही।

मेयर बोले इतिहास का सबसे विनाशकारी दिन

वर्जीनिया बीच के मेयर बॉबी डेर ने कहा कि यह शहर के इतिहास का सबसे विनाशकारी दिन है। घटना में जो लोग मारे गए और जख्मी हुए वे सभी हमारे दोस्त और सह-कर्मचारी हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी इस घटना पर नजर रख हुए हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

झारखंड विधानसभा चुनाव में 65 से अधिक सीटें जीतेगी भाजपा : जावड़ेकर

रांची : केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को कहा कि झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास के विकास कार्यों की बदौलत उन्हें आगे पढ़ें »

बिहार और झारखंड में ओडिशा के सांसद स्थापित करेंगे नि:शुल्क शिक्षण संस्थान

भुवनेश्वर : ओडिशा के कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (कीस) की कामयाबी से उत्साहित उसके संस्थापक डॉ. अच्युत सामंत ने कहा है कि वह गरीबी आगे पढ़ें »

ऊपर