राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी उम्मीदवार की सूचना विदेश से लेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति

वाशिंगटनः अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप अपने अतरंगी स्‍वभाव और फैसलों के लिए जाने जाते हैं। ट्रंप फिर एक बार अपनी टिप्पणी को लेकर चर्चा में हैं। 2020 में अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को लेकर ट्रंप ने कहा कि अपने विपक्षी उम्मीदवार की सूचना वह किसी और देश से लेना चाहेंगे। 2016 के चुनाव में जीत के बाद ट्रंप कई वर्षों तक रूस से मदद की बात को नकारते रहे और अब अपने ही बयान से पलट रहे हैं। इससे उनकी मौकापरस्ती भी झलकती है। चुनाव के समय में उन्हें विदेशी मदद लेने में कोई हर्ज नहीं। पिछले चुनावों में विशेष अधिवक्ता रॉबर्ट मूलर ने ट्रंप की टीम के रूस से संपर्क करने का नतीजा संभावित गठजोड़ और न्याय से खिलवाड़ को लेकर जांच किए जाने के रूप में निकला था। एक साक्षात्कार में ट्रंप ने रूस या चीन जैसे देशों से उम्मीदवार की सूचना पेशकश के मामले में कहा कि ‘‘मेरा मानना है कि शायद आप सुनना चाहेंगे…सुनने में कुछ भी गलत नहीं है।’’इसको उन्होंने विदेशी हस्तकक्षेप मानने से भी इनकार किया और कहा,‘‘यह कोई हस्तक्षेप नहीं है, उनके पास सूचना है तो मेरा मानना है कि मैं इसे लूंगा।’’

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर