योग से दूर करें अकेलापन और व्यग्रता : यूएनजीए अध्यक्ष

संयुक्त राष्ट्र : संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष ने छठे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर कहा कि कोविड-19 ने जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है, लोगों में अकेलापन बढ़ गया है और इसके कारण व्यग्रता भी बढ़ी है, ऐसे में सेहतमंद रहने के लिए योग करना आज के समय में बहुत महत्वपूर्ण है। इस वर्ष 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कोविड-19 संबंधी पाबंदियों के चलते तथा सामाजिक दूरी के नियम का पालन करने के लिए डिजिटल तरीके से मनाया जाएगा।

डिजिटल कार्यक्रम ‘योग फॉर हैल्थ – योग ऐट होम’

महासभा के अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद बंदे ने डिजिटल संदेश में कहा, ‘वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। सामाजिक दूरी के कारण अकेलापन बढ़ा है, आर्थिक परेशानियों के कारण व्यग्रता बढ़ी है तथा बीमारी का डर और प्रियजन की चिंता भी लोगों को खाए जा रही है।’ उन्होंने कहा, ‘वैश्विक महामारी के कारण जो परेशानियां पैदा हुई हैं उनसे निपटने तथा चिंता से जूझ रहे लोगों की मदद करने के लिहाज से हम जानते हैं कि योग करना कितना महत्वपूर्ण है।’ इससे पहले, भारत का स्थायी मिशन संरा परिसर में योग दिवस का कार्यक्रम बड़े पैमाने पर आयोजित करता था। इस बार मिशन ने शुक्रवार को कोविड-19 के चलते डिजिटल कार्यक्रम ‘योग फॉर हैल्थ – योग ऐट होम’ का आयोजन किया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में तीसरे दिन भी कोरोना के 800 से ज्यादा मामले, 25 की हुई मौत

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 850 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

कोरोना की वजह से 9वीं-12वीं के पाठ्यक्रम 30 फीसदी घटे

नयी दिल्ली : कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच स्कूलों के ना खुल पाने के कारण शिक्षा व्यवस्था पर असर और कक्षाओं के समय में आगे पढ़ें »

ऊपर