यूएन ने गाजा में स्थिति और बिगड़ने की आशंका जताई

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने इजरायली सेना के साथ संघर्ष में 16 फिलिस्तीनियों के मारे जाने तथा इसमें सौ से अधिक लोगों के जख्मी होने के बाद मामले में ‘‘स्वतंत्र और पारदर्शी’’ जांच का आह्वान किया है। गाजा पट्टी में इजरायल और फिलिस्तीन के बीच हिंसा बढ़ने की आशंका पर संयुक्त राष्ट्र में सुनवाई के दौरान उन्होंने यह अपील की। गुतारेस के उप प्रवक्ता फरहान हक ने बयान जारी कर कहा कि ‘महासचिव ने इन घटनाओं की स्वतंत्र और पारदर्शी जांच की अपील की है। उन्होंने कहा कि विश्व निकाय शांति प्रयासों को फिर से शुरू करने के लिए तैयार है। गुतारेस ने संबंधित पक्षों से अपील की कि ऐसी कोई कार्रवाई नहीं करें जिससे कोई हताहत हो और खासकर नागरिकों को किसी तरीके से नुकसान पहुंचे। वर्ष 2014 के गाजा युद्ध के बाद से इजरायल की ओर से एक ही दिन में अब तक की सबसे घातक हिंसा में 16 लोग मारे गए है। गौरतलब है कि गाजा सीमा पर इजरायली सुरक्षा बलों के साथ संघर्ष में 16 फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों की मौत हो गयी। प्रदर्शनकारी भूमि दिवस (लैंड डे) के मौके पर प्रदर्शन कर रहे थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर