युद्ध करने वाले बयान पर मालदीव ने जताई आपत्ति, स्वामी ने अब दी सफाई

Fallback Image

नई दिल्लीः मालदीव पर अपने विवादों को लेकर सुब्रमण्यन स्वामी एक बार फिर से चर्चा में आ गए है। स्वामी ने एक ट्वीट कर कहा था कि मालदीव में चुनावों में बाधा होने की स्थिति में भारत को उस पर आक्रमण कर देना चाहिए। स्वामी के इस ट्वीट से क्रोधित मालदीव के विदेश मंत्रालय ने देश में स्थित भारत के उच्चायुक्त अखिलेश मिश्रा को समन जारी किया है।
मालदीव में अगले महीने चुनाव होने वाले हैं। स्वामी ने शुक्रवार को यह ट्वीट किया था, उसके बाद ही सरकार ने उनकी इस राय से दूरी बना ली थी। हालांकि रविवार को मालदीव ने भारत के उच्चायुक्त को तलब कर नाराजगी जाहिर की। बता दें कि मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद ने 23 सितंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में मौजूदा प्रेसिडेंट अब्दुल्ला यामीन की ओर से बाधा पहुंचाए जाने की आशंका जताई है। इसके बाद स्वामी ने चुनाव में बाधा पहुंचाए जाने की स्थिति में दखल देने की बात कही थी।
हालांकि अब उन्होंने सफाई देते हुए कहा है, ‘मालदीव में मौजूद भारतीय नागरिकों के साथ गलत बर्ताव नहीं किया जा सकता। मेरी यह राय है कि भारत की जिम्मेदारी है कि मालदीव में वह अपने नागरिकों की रक्षा करे। इसके लिए आक्रमण भी विकल्प हो सकता है। हालांकि मैं सरकार का प्रतिनिधित्व नहीं करता।’



शेयर करें

मुख्य समाचार

cricket

भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पारी और 202 रन से हराया, 3-0 से किया क्लीनस्वीप

रांची : रांची के जेएससीए स्टेडियम में खेले गए तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में मंगलवार को भारत ने शानदार आलराउंड प्रदर्शन के दम पर आगे पढ़ें »

dhankhad

बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ बोले, ‘मैं राज्य सरकार के अधीन नहीं’

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में राज्य सरकार तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और राज्यपाल जगदीप धनखड़ के बीच जारी तनातनी बढ़ती जा रही है। दरअसल इस विवाद आगे पढ़ें »

ऊपर