पाकिस्तान को अब न कर्ज देंगे और न तेल : सउदी अरब

imran

रियाद : कोरोना महामारी के बीच दयनीय वित्तीय स्थिति का सामना कर रहे पाकिस्तान को सउदी अरब ने तगड़ा झटका देते हुए उसे तेल की आपूर्ति बंद करने के साथ ही कर्ज देने से मना कर दिया है। सउदी अरब ने यह कदम पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के कश्मीर मुद्दे पर भारत के खिलाफ कड़ा रुख नहीं अपनाने के लिए सउदी अरब की अगुवाई वाले ‘इस्लामिक सहयोग संगठन’ (ओआईसी) को सख्त चेतावनी देने के बाद उठाया है। मिडिल ईस्ट मॉनिटर ने इसकी जानकारी दी है। सउदी अरब के इस कदम के बाद दोनों देशों के बीच दशकों से चला आ रहा रिश्ता खत्म हो गया है।

पाकिस्तान को एक अरब डॉलर का करना होगा भुगतान 

पाकिस्तान को सउदी अरब को एक अरब डॉलर का भुगतान भी करना होगा। यह राशि नवंबर 2018 में सउदी अरब के 6.2 अरब डॉलर के पैकेज का एक हिस्सा था,जो पाकिस्तान को घोर आर्थिक संकट के समय दिया गया था। इसमें पैकेज में कुल तीन अरब डॉलर का ऋण और एक तेल रिण सुविधा थी जिसमें 3.2 अरब डॉलर की राशि शामिल थी। रिपोर्ट के अनुसार, जब शहजादे मोहम्मद बिन सलमान ने पिछले साल फरवरी में पाकिस्तान की यात्रा की थी, तब इस सौदे पर हस्ताक्षर किए गए थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब नेपाल की जमीन पर चीन का कब्जा, नौ इमारतों का अवैध निर्माण कराया

बीजिंग : भारत से जारी विवाद के मद्देनजर नेपाली प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ तेजी से अपनी दोस्ती को मजबूत आगे पढ़ें »

केएल राहुल दिखाए कि वह जिम्मेदारी संभाल सकते हैं : गावस्कर

नई दिल्ली : जब महेंद्र सिंह धोनी टीम इंडिया के कप्तान थे, यह साफ था कि कप्तानी की दौड़ में अगला शख्स कौन था। विराट आगे पढ़ें »

ऊपर