भारतीय-अमेरिकी लोगों के समर्थन के लिए आभारी हैं ट्रंप : व्हाइट हाउस

white house

वाशिंगटन : व्हाइट हाउस ने कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लोगों और भारतीय-अमेरिकियों से मिल रहे ‘व्यापक समर्थन’ के लिए उनके ‘‘बहुत आभारी’’ हैं। व्हाइट हाउस ने उस सर्वेक्षण के जवाब में यह टिप्पणी की है जिसमें संकेत मिले हैं कि अमेरिका के कुछ अहम राज्यों में भारतीय समुदाय के 50 प्रतिशत से अधिक सदस्य नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप के पक्ष में जा रहे हैं।

50 प्रतिशत से अधिक भारतीय-अमेरिकी ट्रंप के पक्ष में

व्हाइट हाउस की उप प्रेस सचिव सारा मैथ्यूज ने हाल के सर्वेक्षण के नतीजों पर सवाल का जवाब देते हुए यह टिप्पणी की। आम तौर पर डेमोक्रेटिक पार्टी के लिए वोट करने वाले भारतीय-अमेरिकी तीन नवंबर के चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के ट्रंप के पक्ष में जा रहे हैं। मैथ्यूज ने बताया, ‘राष्ट्रपति ट्रंप भारत के लोगों और अमेरिका में लाखों भारतीय-अमेरिकियों से मिले व्यापक समर्थन के लिए काफी आभारी हैं।’ ट्रंप विक्ट्री इंडियन-अमेरिकन फाइनेंस कमिटी के सह-अध्यक्ष अल मैसन द्वारा किए सर्वेक्षण के नतीजों के अनुसार चुनावी मुकाबले वाले अहम राज्यों मिशिगन, फ्लोरिडा, टेक्सास, पेन्सिलवेनिया और वर्जीनिया में 50 प्रतिशत से अधिक भारतीय-अमेरिकी ट्रंप के पक्ष में जा रहे हैं। राष्ट्रपति पद के कार्यकाल के दौरान ट्रंप ने भारतीय-अमेरिकी समुदाय तक पहुंच बनाने की अतिरिक्त कोशिश की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ उनके करीबी संबंधों ने उन्हें भारतीय-अमेरिकियों दिलों में जगह बनाने में काफी मदद की है। मैथ्यूज ने कहा, ‘‘उन्होंने (ट्रंप) हमारी अर्थव्यवस्था को बढ़ाने, हमारी संस्कृति को समृद्ध करने और हमारे समुदायों को मजबूत करने में भारतीय-अमेरिकियों की अहम भूमिका को पहचाना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय-अमेरिकियों के बीच बेरोजगारी दर करीब 33 प्रतिशत तक गिरी।’’

शेयर करें

मुख्य समाचार

सुप्रीम कोर्ट ने गर्भवती हथिनी मौत मामले में केंद्र, बंगाल समेत 13 राज्यों को भेजा नोटिस

नयी दिल्ली : उच्चतम न्यायालय ने केरल के मल्लपुर जिले के एक गांव में गर्भवती हथिनी की निर्मम मौत के मामले में केंद्र सरकार और आगे पढ़ें »

अरुणाचल में हुआ भारी भूस्खलन, एक परिवार के चार लोगों की हुई मौत

ईटानगर : अरुणाचल प्रदेश के पापुम पारे जिले के टिगडो गांव में लगातार बारिश के कारण शुक्रवार को हुए भूस्खलन में एक ही परिवार के आगे पढ़ें »

ऊपर