फिर घर में घिरे इमरानः घूम-घूम कर भीख मांगने, बेरोजगारी और महंगाई पर जनता ने लताड़ा

imran khan

इस्लामाबादः पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान फिर से अपने ही घर में घिर गए हैं। उनसे राजनेता ही नहीं बल्कि यहां की आवाम भी उनसे खफा है। इमरान के खिलाफ लोग उलूल-जुलूल बोल रहे हैं। इसकी वजह उनका शोर मचाना पूरी दुनिया को न तो रास आ रहा है और न ही यह मुहिम किसी भी स्‍तर पर सफल हुई है। इसके चलते भी पाकिस्‍तान के राजनेता ही नहीं बल्कि आम आदमी भी उनसे खासा नाराज हैं। यहां पर इमरान की वो मुहिम भी विफल हो गई है जिसके तहत वह देश के मुश्किल हालातों पर जम्‍मू कश्‍मीर के मुद्दे को उठाकर इस पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहे थे। इस बार इमरान खान को पूर्व राष्‍ट्रपति आसिफ अली जरदारी की बेटी आसीफा ने कटघरे में खड़ा किया है। उन्‍होंने पाकिस्‍तान की खराब होती हालत के लिए इमरान खान को जिम्मेदार ठहराया है। इमरान खान सरकार के एक साल पूरा होने के बाद आसिफा का यह पहला इंटरव्‍यू है।

मुशर्रफ और इमरान सरकार में कोई फर्क नहीं
उनका कहना है कि इमरान खान और पूर्व तानाशाह जनरल परवेज मुशर्रफ की सरकार में कोई फर्क नहीं है। दोनों ही सरकारों के कार्यकाल में देश का बुरा ही हुआ है। इन दोनों के ही राज में लोगों की जबरदस्‍त महंगाई से कमर टूटी है। आसिफा का कहना है कि इमरान खान के हाथ में इस एक साल में सफलता से ज्‍यादा निराशा हाथ लगी है। इस एक साल के दौरान लोगों के खुलकर विचार व्‍यक्‍त करने पर भी पाबंदी लगा दी गई।

चरमराई पाकिस्‍तान की अर्थव्‍यवस्‍था
आसिफा के मुताबिक पीएम बनने से पहले इमरान खान ने कई चुनावी वायदे किए थे, जिन्‍हें वह पूरा करने में पूरी तरफ से विफल रहे। दस लाख तो दूर किसी एक इंसान को भी वह रोजगार नहीं दिला सके। इमरान के चुनावी वायदों में बेघरों को पचास लाख घर उपलब्‍ध कराना था, लेकिन वह किसी को भी घर नहीं दे सके। इसके उलट उन्‍होंने लाखों लोगों के घरों को उजाड़ने का काम किया है। आसिफ ने इमरान खान पर तंज भी कसा। उन्‍होंने कहा कि इमरान खान पीएम बनने से पहले चिल्‍ला-चिल्‍ला कर कहते थे कि यदि उन्‍हें किसी देश के आगे भीख मांगनी पड़ी तो वह आत्‍महत्‍या कर लेंगे। लेकिन पीएम बनने के बाद देश की खराब होती अर्थव्‍यवस्‍था के लिए वह कई देशों में गए और वहां से अपने लिए भीख मांगने में जरा नहीं हिचकिचाए। ऐसा कर उन्‍होंने पूरी दुनिया में पाकिस्‍तान का मजाक बनाकर रख दिया। महंगाई पर बात करते हुए आसिफा ने कहा कि यदि आम आदमी से बात की जाए तो वह बताएगा कि महंगाई पिछले एक दशक में सबसे ऊंचे स्‍तर पर आ गई है। बेरोजगारी इस वक्‍त चरम पर है। बिजली की कीमतें आसमान छू रही हैं। ब्रेड की कीमतों में भी जबरदस्‍त इजाफा हुआ है। इतना ही नहीं गैस की कीमतें लगातार बढ़ती जा रही हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

करीमपुर उपचुनाव से होगा बंगाल विधानसभा के विजय का आगाज : विजयवर्गीय

नदियाः नदिया के करीमपुर विधानसभा उपचुनाव से बंगाल विधानसभा पर विजय का आगाज होगा, शनिवार शाम करीमपुर के महिषबथान में गांधी संकल्प यात्रा को केंद्र आगे पढ़ें »

बीजीबी की फायरिंग में बीएसएफ जवान की मौत की घटना दुर्भाग्यजनक : शुभेन्दु अधिकारी

मुर्शिदाबाद : मुर्शिदाबाद के जलंगी में बीजीबी की फायरिंग में बीएसएफ जवान की मौत की घटना दुर्भाग्यजनक। परिवहन मंत्री और तृणमूल के जिला पर्यवेक्षक शुभेन्दु आगे पढ़ें »

ऊपर